स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मध्यप्रदेश के इस युवा अफसर को धमकी, कार में छोड़ा पत्र, लिखा तो.. जान से हाथ धो बैठोगे

Shubham Singh

Publish: Aug 20, 2019 20:31 PM | Updated: Aug 20, 2019 20:31 PM

Shahdol

आरटीओ के वाहन में रखा था पत्र, एसपी और कलेक्टर से शिकायत

शहडोल. आरटीओ (RTO) शहडोल को जान से मारने की धमकी देने का मामला प्रकाश में आया है। आरटीओ के वाहन में एक पत्र लिखा मिला है। जिसमें जान से हाथ धो बैठने की बात कही गई है। आरटीओ आसुतोष भदौरिया ने मामले की शिकायत एसपी और कलेक्टर शहडोल से की है। मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी ने जांच के निर्देश दिए हैं। आरटीओ ने शिकायत में बताया कि १९ अगस्त की सुबह मेरे वाहन क्रमांक एमपी १९ बीबी १७३८ को साफ करते वक्त एक पन्ना पाया गया। जिसमें मुझे और उप परिवहन आयुक्त को मीटिंग किए जाने पर जान से मारने की बात कही गई है। उधर कोतवाली पुलिस मामले की जांच शुरू कर दी है।


27 अगस्त को डीटीसी के साथ रखी है मीटिंग
आरटीओ भदौरिया ने शिकायत में बताया कि, 27 अगस्त को मेरे और डीटीसी अजय गुप्ता द्वारा स्थायी परमिटों को लेकर मीटिंग रखी गई है। जिसका विरोध यूनियन के कुछ पदाधिकारियों द्वारा भी किया जा रहा है। साथ ही मीटिंग को भी निरस्त करने की बात कही जा रही है। पुलिस अधिकारी आरटीओ को दिए गए धमकी भरे इस पत्र को भी २७ अगस्त को होने वाली मीटिंग से जोड़कर देख रहे हैं।


हाथ नहीं, कम्प्यूटर से प्रिंट कराया पत्र, कहा मीटिंग का ख्याल निकाल दो
आरटीओ ने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के पास पहुंचकर पत्र भी उपलब्ध कराया है। पत्र में लिखा है, तुझे पहले भी एक बार बोल चुके हैं कि जो हिसाब से काम नहीं करते हैं, उसका जीना * कर देते हैं। इसलिए अपनी जान चाहता हो तो तू और गुप्ता मीटिंग का ख्याल दिमाग से निकाल दो, नहीं तो जान से हाथ धो बैठोगे।

वाहन में पत्र रखा था। जिसमें जान से मारने की धमकी थी। एसपी व कलेक्टर से शिकायत कर दी है।
आसुतोष भदौरिया, आरटीओ शहडोल

इस संबंध में शिकायत आई है। मामले की जांच कराई जा रही है। जांच के बाद मामला दर्ज होगा।
अनिल सिंह कुशवाह, एसपी शहडोल