स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गर्भ में बच्चे की मौत, रास्ते में कराया प्रसव

Shubham Singh

Publish: Oct 19, 2019 21:03 PM | Updated: Oct 19, 2019 21:03 PM

Shahdol

शहडोल से रेफर के बाद रीवा ले जा रही थी एंबुलेंस

शहडोल। 108 एम्बुलेंस एक बार फिर से गर्भवती महिला के लिए संजीवनी साबित हुई है। हांलाकि गर्भ में बच्चे की मौत होने के बाद भी महिला की जान बचा ली गई।


रास्ते में बिगड़ गई थी हालत
जिला अस्पताल से गंभीर हालत में रीवा के लिए रेफर एक प्रसूता की रास्ते में ही हालत बिगड़ गई। दरअसल रीवा ले जाते समय गर्भ में ही बच्चे ने दम तोड़ दिया, जिससे प्रसूता की हालत और खराब हो गई। सूझबूझ के साथ एंबुलेंस 108 के कर्मचारियों ने प्रसव कराते हुए प्रसूता की जान बचाई है। जानकारी के अनुसार, सीमा यादव निवासी धनगवां को जिला अस्पताल लाया गया था। हालत नाजुक होने पर रीवा रेफर कर दिया गया था। इस दौरान हालत और खराब हो गई। बाद में रीवा के पहले प्रसूता की सांसें थमने लगी तो एंबुलेंस 108 के डॉ आशीष सिंह और पायलट रोशन तिवारी ने रास्ते में ही प्रसव करा दिया। प्रसूता को रीवा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया गया कि बच्चे की मौत के बाद मां की हालत बिगड़ गई थी।