स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नहीं मिली मदद तो होटल की गाढ़ी कमाई लगाकर बनवाने लगा अखाड़ा

Lav Kush Tiwari

Publish: Oct 20, 2019 07:00 AM | Updated: Oct 19, 2019 20:30 PM

Shahdol

नगर के होटल व्यवसाई ने लिया अखाड़ा बनवाने का संकल्प

शहडोल. आधुनिकता की चकाचौंध में जहां एक तरफ युवाओं में जिम जाने का प्रचलन तेजी से देखा जा रहा है और युवा वर्ग जिम जाकर अपनी वाड़ी फिटनेश को लेकर हजारों रुपए हर महीने खर्च किए जाते हैं, वहीं नगर में संचालित एक व्यायाम शाला में लगभग 80 से अधिक युवा पहुंचकर पहलवानी का दांव पेच सीखने पहुंच रहे हैं। युवाओं में पहलवानी और फिटनेस के बढ़ते क्रेज को बरकरार रखने और उन्हे पहलवानी का गुरूमंत्र और दांव पेंच सिखाने का जज्बा और जूनून ऐसा कि नगर के बस स्टैंड के सामने स्थित होटल व्यापारी मूलचन्द वाधवानी को जब कहीं से आर्थिक मदद नहीं मिली तब उन्होने अपने होटल की गाढ़ी कमाई लगाकर व्यायाम शाला में युवाओं को पहलवानी करने और पहलवानी का दांव पेच सिखाने व्यायाम शाला में अपनी गाढ़ी कमाई लगाकर आधुनिक अखाड़ा बनवाए जाने का संकल्प लेकर अखाड़ा निर्माण का कार्य कराया जा रहा है। बताया गया है कि अब तक उक्त व्यवसाई ने अखाड़ा निर्माण में लगभग 5 लाख रुपए से अधिक की राशि खर्च कर दी है और अभी लगभग 5 लाख रुपए खर्च करके हाल स्थित अखाड़े में कालीन लगाए जाने का कार्य कराया जाएगा।
5 लाख रुपए के लगाए जाएंगे रेसलिंग गद्दे-
विराट व्यायाम शाला स्थित बनवाए जा रहे आधुनिक अखाड़े में लगभग 5 लाख रुपए से अधिक लागत के 16 गद्दों और मैट की खरीदी कर लगाए जाएंगे। इन गद्दों और मैट की खरीदी जबलपुर से की जाएगी। जहां हर सुविधाएं पहलवानों को उपलव्ध कराई जाएंगी।
अभी यह है सुविधाएं- विराट व्यायाम शाला में वर्तमान समय में जिम की तरह वेट लेफ्टिंग मशीन, मल्टी जिम, साइक्लिंग, जागिंग के लिए जागर, 25 डम्बल, 25 से अधिक मुगदर सहित अन्य सुविधाएं यहां आने वाले युवाओं को उपलव्ध कराई जाती हैं। बताया गया है कि इसके लिए 50 रुपए का कम से कम शुल्क लिया जाता है। जहां हर दिन सुबह-शाम लगभग ८० से अधिक युवा व्यायाम शाला पहुंच कर सुविधा का लाभ ले रहे हैं।
80 से अधिक को पहलवानी की सिखाया दांव पेच-
मूलचन्द बाधवानी अब तक नगर के लगभग 80 से अधिक युवाओं को पहलवानी का दांव पेच और गुरू मंत्र शिखा चुके हैं और शाम को लगभग १ घंटे का समय निकालकर प्रति दिन व्यायाम शाला जाकर युवाओं को व्यायाम करने और पहलवानी सिखाने का नि:शुल्क कार्य कर रहे हैं। मूलचन्द ने बताया कि लगभग ५ लाख रुपए से अधिक राशि खर्च हो चुकी है, अखाड़े में रेसलिंग गद्दे लगाने के लिए जल्द ही व्यवस्था कराई जाएगी, जिससे नगर के युवाओं को इसका लाभ मिल सकेगा।
----------------------------------------------------------------------------------------------