स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उच्च शिक्षा मंत्री से संभागीय मुख्यालय में नवीन महाविद्यालय खोले जाने की मांग

Ramashankar mishra

Publish: Nov 18, 2019 12:48 PM | Updated: Nov 18, 2019 12:48 PM

Shahdol

पूर्व सचिव मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने बताई समस्या

शहडोल.पूर्व सचिव मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी हरीश अरोरा बिट्टू ने उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी से मुलाकात कर संभागीय मुख्यालय में नवीन महाविद्यालय खोले जाने की मांग की है। उन्होने उच्च शिक्षा मंत्री को अवगत कराया है कि पं. शंभूनाथ शुक्ल महाविद्यालय के विवि में अपग्रेड होने के बाद मुख्यालय में सिर्फ कन्या महाविद्यालय ही है। इसके अलावा छात्रों को पढऩे के लिए बुढ़ार या जयसिंहनगर जाना पड़ेगा। जिसके चलते छात्रों को परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। संभागीय मुख्यालय होने की वजह से आस-पास के छात्र भी यहां पढ़ाई करने के लिए आते हैं। छात्रों की परेशानी व संभागीय मुख्यालय होने की वजह से यहां नवीन महाविद्यालय खोले जाने की आवश्यक्ता है। कांग्रेस नेता हरीश अरोरा ने उच्च शिक्षा मंत्री से मांग की है कि छात्रों की समस्या को ध्यान में रखते हुए मुख्यालय में नवीन महाविद्यालय खोला जाए।
सौंपा ज्ञापन, कहा-अभी भी जाना पड़ता है रीवा
संभाग के सभी महाविद्यालयों को पं. एस एन शुक्ला विश्वविद्यालय से संबद्ध करने की मांग को लेकर एनएसयुआई ने उच्च शिक्षा मंत्री को ज्ञापन सौंपा है। विश्वविद्यालय के लोकार्पण समारोह में शामिल होने पहुंचे उच्च शिक्षा मंत्री से मुलाकात कर एनएसयुआई पदाधिकारियों ने ज्ञापन के माध्यम से अपनी मांग रखी है। जिसमें कहा गया है कि संभाग के सभी महाविद्यालयों की संबद्धता एपीएस युनिवर्सिटी रीवा से हैं। जिससे संभाग के सभी छात्रों को विश्वविद्यालयीन कार्य से रीवा जाना पड़ता है। जिसके चलते उन्हे कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जिसे देखते हुए सभी महाविद्यालयों की संबद्धता पं.एस एन शुक्ल विवि से की जाए। ज्ञापन सौंपते समय एनएसयुआई जिलाध्यक्ष विक्रम सिंह, आशीष तिवारी सहित एनएसयुआई के पदाधिकारी व कार्यकर्ता शामिल रहे।
शहडोल में हो विधि की परीक्षा
लॉ कॉलेज का परीक्षा केन्द्र बुढ़ार में होने की वजह से छात्रों को होने वाली परेशानी को ध्यान में रखते हुए परीक्षा केन्द्र शहडोल में किए जाने की मांग को लेकर भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के निशान्त जोशी व छात्रों ने उच्च शिक्षा मंत्री को ज्ञापन सौंपा है। जिसमें कहा गया है कि परीक्षा सेन्टर बुढ़ार में होने की वजह से लॉ कॉलेज शहडोल में पढऩे वाले छात्रों को आवागवन के साथ ही अन्य परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

[MORE_ADVERTISE1]