स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

12 घंटे में 6 बच्चों की मौत से हड़कंप, स्वास्थ्य मंत्री ने दिए जांच के आदेश

Muneshwar Kumar

Publish: Jan 14, 2020 14:20 PM | Updated: Jan 14, 2020 15:11 PM

Shahdol

स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने सतना और शहडोल में बच्चों की मौत मामले में दिए जांच के आदेश

शहडोल/ मध्यप्रदेश के शहडोल जिला अस्पताल में बारह घंटे के अंदर ही छह बच्चों की मौत हो गई है। मौत के बाद प्रदेश में हड़कंप मच गया है। आखिर बच्चों की मौत कैसे हुई। बच्चों की मौत की खबर सुन ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल भी वहां पहुंचे। वहीं, अब स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने भी इस पूरे मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं।

[MORE_ADVERTISE1]

दरअसल, शहडोल के कुशाभाऊ ठाकरे जिला अस्पताल में प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। जहां मंगलवार देर रात 6 बच्चों की मौत हो गई। कुछ ही घंटों के अंतराल में एक के बाद एक बच्चों की मौत से अस्पताल समेत जिले में हड़कंप मच गया है। बीती रात्रि SNCU में 2 बच्चों की , PICU में 2 बच्चों की एवं बच्चा वार्ड में 2 बच्चों की मौत हुई।

[MORE_ADVERTISE2]
[MORE_ADVERTISE3]

अगर इतनी बड़ी संख्या में बच्चों की मौत होती है तो सवाल लाजमी है। बच्चा वार्ड में भर्ती दो बच्चों की निमोनिया से मौत हुई। वहीं SNCU और PICU में भर्ती अतिगंभीर 4 बच्चों की मौत है। वहीं बच्चों की मौत पर परिजनों का कहना है कि अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही के चलते ऐसा हुआ है। मृतकों में चैत कुमारी , फूलमती , श्याम नारायण , सूरज , अंजलि और सुभाष हैं।


अधिकारी कर रहे जांच की बात
वहीं, परिजनों के आरोप पर सीएमएचओ डॉ सुनील हथगेल ने कहा कि ये बात हमारे भी संज्ञान में आई है। उसके बाद हम इलाज कर रहे डॉक्टरों से रिपोर्ट मंगाई है। हमने इलाज कर रहे डॉक्टरों से पूरी जानकारी मांगी है कि आखिर उन बच्चों को क्या बीमारी थी। साथ ही वह अस्पताल में कब से भर्ती थी। उन्होंने कहा कि अगर लपारवाही की बात सामने आती है तो दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।


स्वास्थ्य मंत्री ने दिए जांच के आदेश
बच्चों की मौत पर हड़कंप मचा हुआ है। इस बीच लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री तुलसी सिलावट ने शहडोल और सतना में बच्चों की मौत की सूचना मिलते ही परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है। साथ ही समीक्षा बैठक में ही घटना के जांच के आदेश जारी किए। सिलावट ने सम्बन्धित कलेक्टर और CMHO को कर्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। गौरतलब है कि सतना में टीकाकरण की वजह से दो बच्चों की मौत हुई है।