स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उपयंत्री रतन लाल बघेल के विरूद्ध आरोप पत्र जारी

Lav Kush Tiwari

Publish: Dec 09, 2019 07:00 AM | Updated: Dec 08, 2019 12:41 PM

Shahdol

कमिश्नर ने दिए विभागीय जांच के आदेश

शहडोल. कमिश्नर शहडोल आरबी प्रजापति ने जनपद पंचायत जयसिंहनगर के उपयंत्री रतन लाल बघेल के विरूद्ध अधिरोपित आरोपों के संबंध में विभागीय जांच संस्थित कर आरोप पत्र सीइओ जनपद पंचायत के माध्यम से जारी करते हुए पत्र प्राप्ति के 15 दिवस के अंदर प्रतिवाद दावा प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया है। साथ ही अधिरोपित आरोपो के संबंध में बघेल से यह भी स्पष्ट करने को कहा गया है कि विभागीय जॉच प्रकरण में वे आरोपो के संबंध प्रत्यक्ष सुनवाई चाहते है अथवा मौखित जॉच चाहते है, अथवा बचाव कोई तथ्य या साक्ष्य प्रस्तुत करना चाहते तो सूची प्रस्तुत करें। उपयंत्री के विरुद्ध विभागीय जॉच संस्थित कर आरोप पत्र, आरोप विवरण एवं अभिलेखो की सूची तथा साक्ष्यों की सूची सीइओ जपपद पंचायत जयसिंहनगर के माध्यम भेजकर रतन लाल बघेल से प्रतिवाद पत्र निर्धारित समयावधि में चाहा है। यदि निर्धारित समयावधि में प्रतिवाद पत्र आदि प्रस्तुत नही किया जाता तो प्रकरण में नियमानुसार कार्रवाई की जावेगी। रतन लाल बघेल उपयंत्री पर जनपद पंचायत बुढ़ार में पदस्थ होने के दौरान कुनुक नदी प्रवाह घाट में आप अपने उपयंत्री जनपद पंचायत बुढार पदस्थगी के दौरान स्थल का बिना ट्रायल के रेतीले स्ट्रेटा में बिना सही डिस्चार्ज की गणना किए बिना डिजाइन के एवं बिना तकनीकी अवयवों के समावेशों के अनुमान से 49.78 लाख का स्टाप डैम का गैरतकनीकी प्राक्कलन तैयार किया कर कार्यपालन यंत्री के बिना स्थल परीक्षण कराए, कूटरचना कर तकनीकी स्वीकृति प्राप्त कर एवं बाद में कार्यालय अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक मनरेगा के आदेश के बाद प्रशासकीय स्वीकृति प्राप्त कर अनुपयुक्त स्थल पर ओवरसाइज गिट्टी एवं अमानक स्तर की कांक्रीट से कार्य कराया गया, जिसके बीच के भाग में रेत के ऊपर नींव होने से स्टाप डैम डिस्लोकेट (धसक) गया। जिससे पूरा का उपयोग लायक नहीं बचा एवं अधूरा रहने से शासकीय राशि का दुरूपयोग हुआ। जिसके लिए आप भी पूर्णरूपेण जिम्मेवार हैं तथा आपके उपयंत्री जनपद पंचायत बुढार में पदस्थगी दौरान स्टाप डैम निर्माण परौहा घाट का कार्य घटिया गुणवत्ता का कराया गया, जिससे शासन को आर्थिक क्षति हुई, जिसके लिए आप दोषी हैं।

[MORE_ADVERTISE1]