स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नेत्र शिविर में विद्यार्थियों की नेत्रों का हुआ परीक्षण

Santosh Dubey

Publish: Oct 19, 2019 19:46 PM | Updated: Oct 19, 2019 19:46 PM

Seoni

245 विद्यार्थियों के नेत्रों की हुई जांच, चश्मा लगाने की दी सलाह

सिवनी/किंदरई. विकासखण्ड घंसौर के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल झिंझरई में विकासखण्ड खण्ड चिकित्सालय घंसौर से स्कूल के छात्र-छात्राओं के नेत्र जांच के लिए नेत्र जांच दल पहुंचा और नेत्रों की जांच की।
नेत्र परीक्षण में डॉ. राहंगडाले नेत्र विशेषज्ञ घंसौर, नेत्र सहायक शैलेन्द्र कुमरे, नेत्र सहायक डॉ. अजय उइके ने विद्यार्थियों के स्वास्थ्य व नेत्र परीक्षण किया। कक्षा पहली से 12वीं तक के विद्यार्थियों की जांच कर उन्हें उचित सलाह दी गई। अनेक छात्रों को चश्में लगाने की सलाह दी गई तथा आंखों में डालने वाली दवाई लिखी गई। वहीं डॉक्टरों ने गोली लिखकर देते हुऐ कहा कि दवाइयों का सेवन करें ताकि आंख का एवं सिर का दर्द खत्म होगा। वहीं कुछ बच्चों को निकट दृष्टि दोष कुछ को दूर दृष्टि दोष पाया गया. उनको चश्मा का नम्बर लिखे एवं चश्मा बनाकर नि:शुल्क देने की बात कही। इसके साथ ही आयरन की गोली बांटे जाने की जानकारी ली गई। शिविर में कुल 245 बच्चों का नेत्र परीक्षण किया गया। नेत्र परीक्षण में नेत्र सहायक शैलेन्द्र कुमरे केदारपुर अजय उइके, आदि मौजूद थे।
स्कूल के शिक्षक-शिक्षिकाओं ने भी अपनी आंखों की जांच कराई। कुल 26 बच्चो को चश्में की आवश्यकता के लिए चिन्हित किया। 45 बच्चों को नेत्र की परेशानी के लिए चिन्हित किए गए। जिसमें 26 बच्चों को चश्में के लिए जरूरी महसूस किया गया। शाला के शिक्षक एसएल मरावी, प्रमोद चौधरी, राजेश झारिया, राहुल पटेल, घनश्याम सिंह, आशुतोष कुशवाहा, सत्येन्द्र चौधरी ने भी आंखों की जांच कराए।
शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय झिंझरई के प्राचार्य ने बताया कि स्कूल के जिन विद्यार्थियों के नेत्र परीक्षण नहीं हो सके हैं उनकी जांच आगामी तिथि निश्चित कर जांच की जाएगी।