स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गुना के खरीददार सहित पुलिस ने पिस्टल बनाने वाले सिकलीगर को दबोचा

Vishal Yadav

Publish: Jul 25, 2019 10:27 AM | Updated: Jul 25, 2019 10:27 AM

Sendhwa

शहर थाना के अधिकारियों ने अवैध हथियारों के खरीददार सहित पिस्टल बनाने वाले सिकलीगर को पकडऩे में सफलता हासिल की, 4 पिस्टल सहित औजार जब्त, पुलिस ने जाल बिछाकर आरोपितों को पकड़ा

बड़वानी/सेंधवा.
नगर सहित वरला विकासखंड में अवैध हथियारों के निर्माण और बिक्री के मामले में पुलिस को फिर एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। इस बार शहर थाना के अधिकारियों ने अवैध हथियारों के खरीददार सहित पिस्टल बनाने वाले सिकलीगर को पकडऩे में सफलता हासिल की है। साथ ही पुलिस में पिस्टल बनाने के औजार भी जब्त किए है।
सेंधवा एसडीओपी तरुणेंद्रसिंह बघेल ने बताया कि पुलिस अधीक्षक को मुखबीर से सूचना मिली थी कि गुना का एक व्यक्ति ग्राम शाहपुरा में जाकर अवैध पिस्टल की खरीदी कर रहा है। सूचना के आधार पर एसडीओपी बघेल को कार्रवाई के निर्देश दिए गए। थाना सेंधवा और वरला थाने की टीम को आरोपितों को पकडऩे की जिम्मेदारी दी गई। शहर थाना प्रभारी जीएल चौहान के नेतृत्व में पुलिस आरोपितों की तलाश में जुट गई। पुलिस ने रवींद्र पिता लालजी राम निवासी गुना को पकड़ा। उसकी तलाशी लेने पर मौके पर 2 पिस्टल और 2 मैगजीन मिली।
पूछताछ के बाद आरोपी ने बताया कि उसने ये पिस्टल शाहपुरा निवासी जोतसिंह पिता मंगलसिंह बरनाला से 16000 रुपए में खरीदी है। जब पुलिस ने शाहपुरा स्थित ज्योतिसिंह जोतसिंह के घर दबिश दी तो वहां पर देसी पिस्टल बनाने का सामान सहित 2 पिस्टल बरामद की गई। पुलिस ने सर्चिंग के दौरान 6 कारतूस भरे हुए और 11 कारतूस के खाली खोल भी जब्त किए। पुलिस ने आरोपितों के विरुद्ध 25 आम्र्स एक्ट सहित 27 आम्र्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस का दावा है कि अभी और भी पिस्टल मिलने की संभावना है। पुलिस अधीक्षक डीआर तेनिवार ने पुलिस टीम को नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है। कार्रवाई में शहर थाने के एसआई राजीव ओसाल, प्रधान आरक्षक आसिफ अली, आरक्षक श्याम, अमजद, कमल, सुनील व वरला थाने के प्रधान आरक्षक संजय पांडे और आरक्षक लोकेश की भूमिका रही।

वरला ब्रिज के नीचे पुलिस को देख भागा आरोपी
पुलिस सूत्रों के मुताबिक गुना निवासी आरोपी जब पिस्टल लेकर सेंधवा पहुंचने की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस अधिकारियों ने वरला ब्रिज सहित अन्य पाइंट लगाकर आरोपी का इंतजार किया। जैसे ही आरोपी वरला ब्रिज के पास पहुंचा तो पुलिस ने उसे पकडऩे की कोशिश की, लेकिन वह भागने लगा। पुलिस ने आरोपी युवक का पीछा कर उसे धर दबोचा। पुलिस जांच के दौरान युवक के पास दो पिस्टल बरामद हुए। अभी इस बात का खुलासा नहीं हुआ है कि युवक ने पिस्टल किसी घटना को अंजाम देने के लिए खरीद है या बेचने के लिए।