स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

धूल के गुबार ने लोगों की बढ़ाई परेशानी

Vishal Yadav

Publish: Sep 09, 2019 11:16 AM | Updated: Sep 09, 2019 11:16 AM

Sendhwa

धूल की समस्या का नहीं हुआ निराकरण, हजारों हो रहे प्रभावित, गड्ढों में डाली गिट्टी से चोटिल हो रहे लोग

बड़वानी/सेंधवा. नगर के पुराना एबी रोड पर आम लोगों के लिए परेशानियां बढ़ती जा रही है। नया बस स्टैंड क्षेत्र से लेकर मैकेनिक नगर तक करीब 2 किमी हिस्से में सैंकड़ों गड्ढें वाहन चालकों के लिए हादसे का कारण बन रहे है। सड़क के बड़े हिस्से में गड्ढें होने के कारण दिन भर धूल उड़ती रहती है। इससे रोज हजारों लोग प्रभावित हो रहे है।
नगर के पुराना बस स्टैंड, सब्जी मंडी, फव्वारा चौक, दारु गोदाम क्षेत्र सहित मैकेनिक नगर में इतने बड़े-बड़े गड्ढें हो गए है कि दोपहिया वाहन के साथ चारपहिया वाहन और भारी वाहनों को निकलने में भी मशक्कत करना पड़ रही है। भारी वाहन चालकों में सड़क की स्थिति को लेकर काफी नाराजगी है। जर्जर सड़क से गुजरने वाले भारी वाहनों से दिन भर धूल का गुबार लोगों को परेशान कर रहा है। सड़क की स्थिति ऐसी हो गई है कि वाहन चालकों के आवागमन के बाद पैदल चलने वालों के लिए जगह ही नहीं बची है।
धूल से हजारों लोग हो रहे बीमार
पुराना एबी रोड पर सड़क की स्थिति बदहाल होने से दिनभर धूल का गुबार उड़ते रहता है। ऐसे हजारों व्यवसाई और दोपहिया वाहन चालक परेशान होते रहते हैं। नया बस स्टैंड से लेकर पुराना बस स्टैंड चौराहा, भवानी चौक, सिनेमा चौक, टेलीफोन एक्सचेंज, पीजी कॉलेज सहित मैकेनिक नगर तक सड़क की बदहाल स्थिति के कारण दिनभर धूल का गुबार उड़ता रहता है, लेकिन इस गंभीर समस्या के प्रति कोई भी जिम्मेदार अधिकारी आगे नहीं आ रहा है। दिनभर धूल उडऩे से लोगों के सर्दी, खांसी, आंखों में जलन की शिकायत हो रही है।
दुकानदार भी उड़ती धूल से परेशान
सड़क के 2 किमी के हिस्से में कई होटलें, इलेक्ट्रॉनिक आइटमों की दुकानें, फल और सब्जी विक्रेता, किराना, कपड़ा व्यवसाई, मशीनरी व्यवसाय सहित सैकड़ों व्यवसाय स्थित है। धूल उडऩे से सभी की दुकानों का माल खराब होता है। इससे उन्हें आर्थिक हानि हो रही है। होटलों में किसी भी तरह से खाद्य पदार्थों को ढक कर नहीं रखा जाता है और खुले में ही उन्हें बेचा जा रहा है। दिन भर धूल उडऩे से खाद्य पदार्थों पर धूल जम जाती है। इनका सेवन हजारों लोग प्रतिदिन कर रहे है। ऐसे में लोगों को धूल के कारण होने वाली बीमारियां जकड़ सकती है। जल्द ही समस्या निराकरण दरकार है।
नपा करेगी सीमित क्षेत्र में फोरलेन, निर्माण बाकी का क्या हुआ
पिछले दिनों नगर पालिका के तत्वावधान में सांसद गजेंद्र पटेल और विधायक ग्यारसीलाल रावत सहित नपाध्यक्ष बसंती देवी यादव ने नगर के पुराना बस स्टैंड स्थित अंबेडकर नगर से भवानी चौक तक करीब 300 मीटर सड़क पर फोरलेन निर्माण कार्यक्रम का भूमि पूजन किया था। जल्द ही क्षेत्र में निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा। इस पर प्रश्न उठता है कि नगरपालिका जितने क्षेत्र में निर्माण कराएगी। उसके अलावा सड़क के अन्य हिस्से की बदहाली का क्या होगा। लोगों की नाराजगी है कि फिलहाल सड़क बदतर स्थिति में है।
मुंह पर कपड़ा बांध धूल से बचने की जुगत
धूल से बचने के लिए बाइक चालकों को मुंह पर रुमाल लगा कर जाना पड़ता है। सड़क पर चलने वाले राहगीरों सहित अन्य वाहन चालकों की आंखों बालों में धूल जाने से तकलीफ हो रही है। सबसे ज्यादा परेशानी कॉलेज छात्र-छात्राओं की हो रही है। जिन्हें प्रतिदिन कॉलेज आने और जाने के दौरान उड़ती हुई धूल का सामना करना पड़ता है। धूल के कारण कई विद्यार्थियों ने अपने आने-जाने के रास्ते को ही बदल दिया है। अब कई विद्यार्थी जवाहरगंज करते हुए मोहल्ला और पशु चिकित्सालय के रास्ते पुराने पहुंच रहे हैं।
वर्जन...
नपा द्वारा पीडब्ल्यूडी पत्र लिखकर सड़क का सुधर करने का आग्रह किया है। जल्द सड़क का सुधार कार्य शुरू कराने के प्रयास करेंगे।
-मधु चौधरी, सीएमओ सेंधवा