स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

10 जून से शुरू होगा दस्तक अभियान

Vishal Yadav

Publish: May 25, 2019 20:31 PM | Updated: May 25, 2019 20:31 PM

Sendhwa

कार्यशाला में बताई अभियान की रूपरेखा, 10 जून से 20 जुलाई तक दस्तक अभियान का पहला चरण

बड़वानी/सेंधवा. स्थानीय सिविल अस्पताल में दस्तक अभियान की तैयारी के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें बताया कि दस्तक अभियान एक नवाचार है। इसमें 5 वर्ष तक के बच्चों में व्याप्त प्रमुख रोगों के नियंत्रण, संभावित मृत्यु के प्रमुख कारकों को दृष्टिगत रखते हुए बीमार बच्चों की सक्रिय पहचान एवं बाल मृत्यु में गिरावट करने के लिए अभियान चलाया जाता है। इस दौरान साक्ष्य आधारित अन्य गतिविधियों का क्रियांवयन स्वास्थ्य विभाग द्वारा समंवित विभागों के साथ वर्ष में 2 बार आयोजित किया जाता है।
बीएमओ जेपी पंडित ने बताया कि वर्ष 2019-20 में दस्तक अभियान के पहले चरण का आयोजन 10 जून से 20 जुलाई तक किया जाएगा। इसमें एएनएम, आशा कार्यकर्ता एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा दल बनाकर घर-घर जाकर 5 वर्ष तक के बच्चों की जांच की जाएगी। बच्चों में कुपोषण की जांच एवं चिह्नित गंभीर कुपोषित एवं बीमार बच्चों को पोषण पुनर्वास केंद्र में रेफर किया जाएगा। 6 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों में खून की कमी की जांच एवं गंभीर खून की कमी वाले बच्चों को उपचार के लिए रेफर किया जाएगा।
ये भी दी जानकारी
-बच्चों में निमोनिया एवं दस्त रोग की पहचान कर चिह्नितगंभीर बच्चों का प्रबंधन किया जाएगा।
-बच्चों में जन्मजात विकृति की पहचान एवं अन्य बीमारियों जांच एवं उचित प्रबंधन किया जाएगा।
-9 माह से 5 वर्ष के सभी बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाएंगे।
-स्तनपान एवं उचित आहार संबंधी सलाह दी जाएगी।
-कार्यक्रम के दौरान ही दस्त रोग नियंत्रण पखवाड़े के साथ ओआरएस पैकेट का वितरण तथा ओआरएस जिंक की गोली वितरित कर हाथ धुलाई संबंधी सलाह दी जाएगी।
-जन्म के समय शिशुओं एवं कम वजन के बच्चों की उचित देखभाल संबंधी सलाह दी जाएगी।
-दस्तक अभियान की गतिविधि के अंतिम दिन छूटे हुए बच्चों को कवरेज करने के लिए स्वस्थ ग्रामसभा का आयोजन किया जाएगा।
-ग्रामसभा में दस्तक अभियान के साथ संचारी रोगों मलेरिया, टीबी, कुष्ठ के साथ असंचारी रोगों उच्च रक्तचाप, मधुमेह, कैंसर के बारे में भी स्वास्थ्य शिक्षा दी जाएगी।