स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

फाइनेंस कंपनी कार्यालय में आग लगी

Vishal Yadav

Publish: Jun 18, 2019 11:47 AM | Updated: Jun 18, 2019 11:47 AM

Sendhwa

दस्तावेज जले, बिना सुरक्षा उपकरण पहने कर्मचारियों ने बुझाई आग

बड़वानी/सेंधवा. सोमवार को नया बस स्टैंड पर निजी कॉम्प्लेक्स के पहली मंजिल पर निजी फाइनेंस कंपनी के कार्यालय में आग लग गई। घटना से क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। समय रहते आग पर काबू पाया गया, अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। आग बुझाने के दौरान कर्मचारियों बिना किसी सुरक्षा उपकरण पहने आग बुझाई।
निजी फाइनेंस कंपनी स्पंदना स्फूर्ति फाइनेंशियल लिमिटेड बैंक का ऑफिस नया बस स्टैंड चौराहे पर स्थित में कॉम्प्लेक्स में सोमवार को भीषण आग लग गई। आग का कारण फिलहाल शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। ये बैंक महिलाओं को समूह लोन प्रदान करती है। नया बस स्टैंड क्षेत्र में आग लगने से हड़कंप मच गया। नपा के दोपहर फाइटर सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे और आग बुझाने का प्रयास किया। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया।
नुकसान का कोई आकलन नहीं मिल पाया
फिलहाल आग में नुकसान का कोई आकलन नहीं मिल पाया है। समय रहते आग पर काबू पा लिया गया, अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। फाइनेंस कार्यालय के पास ही बीएसएनएल की टेलीफोन लाइन संबंधी केबल लगी हुई थी। इसके अतिरिक्त बिल्डिंग में होटल, भोजनालय सहित अन्य व्यवसाय प्रतिष्ठान भी है। आग लगने से फाइनेंस कंपनी के दस्तावेज जलकर खाक हो गए। हालांकि कम्प्यूटर को आंशिक नुकसान हुआ है। हादसे में किसी के घायल होने की सूचना नहीं है। हादसे के दौरान इस क्षेत्र में भारी भीड़ जमा हो गई। सूचना मिलने के बाद शहर थाना टीआई राजू सिंह बघेल सहित अन्य पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और व्यवस्था संभाली।
बिना जीवन रक्षक साधनों के 50 फीट ऊपर चढ़ गया कर्मचारी
कंपनी के कार्यालय में लगी आग के दौरान जब बचाव कार्य चल रहा था, उस दौरान एक युवक बिल्डिंग के पीछे से ऊपर चढऩे का प्रयास करने लगा। इस समय कर्मचारियों ने उसके लिए चढ़ाव लगाया, लेकिन कर्मचारी बिना किसी जीवन रक्षक उपायों के ही ऊपर चढ़ गया। आग बुझाने का प्रयास किया। बचाव कार्य के दौरान यदि युवक ऊपर से गिर जाता तो बड़ा हादसा हो सकता था। पूर्व में भी पुरानी सब्जी मंडी में आइस्क्रीम दुकान पर भीषण आग के दौरान भी नपा कर्मचारी किसी भी सुरक्षा उपकरण के आग बुझाने पहुंचे थे। आग लगने के समय बचाव कार्य में लगे कर्मचारियों के लिए जीवन रक्षक उपकरण नहीं होना नगर पालिका की लापरवाही दर्शाता है। इसके पूर्व भी कई बार हादसों के दौरान कर्मचारी अपनी जान पर खेलकर बचाव कार्य कर चुके है। अधिकारियों को समझना होगा कि कर्मचारियों के लिए जीवन रक्षक उपकरण प्राथमिकता से खरीदें और उपलब्ध कराए।