स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आइस्क्रीम दुकान में रखी बैटरियों में हुआ विस्फोट

Manish Arora

Publish: Apr 07, 2019 20:27 PM | Updated: Apr 07, 2019 20:27 PM

Sendhwa

बैटरी फटने से आइस्क्रीम दुकान के शटर को हुआ नुकसान, पुराना एबी रोड पर स्थित आइस्क्रीम दुकान की घटना

ऑनलाइन खबर : विशाल यादव
बड़वानी/सेंधवा. नगर पुराना एबी रोड पर एक होटल में उस समय बड़ा हादसा टल गया। जब दुकान में रखी बैटरियों में विस्फोट हो गया। विस्फोट इतना तेज था कि दुकान में लगा लौहे का शटर कई फीट दूर जाकर गिरा। रविवार सुबह पुराना एबी रोड स्थित देवनारायण आइस्क्रीम भंडार की बंद दुकान के अंदर विस्फोट हो गया। दुकान के अंदर रखी जंबो बैटरी में विस्फोट हुआ। जैसे ही विस्फोट हुआ क्षेत्र में कुछ देर अफरा-तफरी का माहौल हो गया। लोगों को कुछ समझ नहीं आया कि आखिर क्या हुआ। लोग दुकान की तरफ दौड़े तो देखा विस्फोट के कारण दुकान में लगा लोहे का वजनदार शटर सड़क पर पड़ा है। घटनास्थल पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। पहले तो लोगों को कुछ समझ नहीं आ आया, लेकिन जब दुकान के संचालक विकास सहित अन्य लोगों के आने के बाद जब दुकान में देखा तो पता चला कि दुकान में रखी बैटरियों में विस्फोट होने से हादसा हुआ है।
बड़ा हादसा टला
हादसे का समय सुबह होने से कोई व्यक्ति या ग्राहक दुकान में मौजूद नहीं था। अन्यथा बड़ा हादसा हो जाता। विकास ने बताया कि बैटरियों में विस्फोट हुआ है, लेकिन ये कैसे हुआ नहीं पता। मामले की पुलिस के पास कोई जानकारी नहीं है। लोगों का कहना है कि दिन के समय इस दुकान में ग्राहकों की भीड़ रहती है। यदि दिन या शाम के समय बैटरियों में विस्फोट हो जाता तो बड़ा हादसा हो सकता था। लोग चोटिल हो सकते थे। जिस जगह विस्फोट हुआ वह व्यस्ततम क्षेत्र है। इसलिए मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच की जानी चाहिए कि ये लापरवाही के कारण हुआ या तकनीकी समस्या के चलते बैटरियों में विस्फोट हुआ है। हालांकि प्रशासन को घटना की जानकारी नहीं है।
घरेलू बैटरियों में विस्फोट के कारण
नगर के सैकड़ों घरों में इंवेर्टर्स और बैटरियों का उपयोग हो रहा है। ऐसे में हर जगह थोड़ी लापरवाही या अनदेखी किसी बड़े हादसे का कारण बन सकती है। रविवार को पुराने एबी स्थित दुकान में हुए विस्फोट के बाद ये सवाल उठ रहा है कि नगर के सैकड़ों घरों और दुकान में इस्तेमाल होने वाली बैटरियों की देखरेख करना बेहद जरुरी है। अन्यथा बैटरियां किसी भी दिन बड़ी दुर्घटना का कारण बन सकती है।
इन बातों का रखें खास ख्याल
दुकानों में भी बैटरी खिड़की के पास रखना चाहिए। जहां से बैटरी में से निकलने वाली गैस को आसानी से बाहर निकाला जा सके। यही गैस बंद कमरे में खतरनाक दबाव बनाती है। इससे विस्फोट के दौरान ज्यादा नुकसान होने की संभावना रहती है। बैटरी से निकलने वाली रासायनिक गैस भी स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकते है।
बॉक्स...
-बैटरी सहित अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामानों पर किसी भी तरह का स्टील का बर्तन या सामान्य नहीं रखना चाहिए। इससे उनमें करंट फैल सकता हो।
-घरों में रखे हुए टीवी, फ्रीज, कम्प्यूटर सहित अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को इनवर्टर और बैटरी से दूर रखना चाहिए।
-बैटरियों को हमेशा ढककर रखना चाहिए। वहीं बैटरी से निकलने वाले तारों पर भी प्लास्टिक कोटेड होना चाहिए। इससे हादसा ना हो।
- बैटरी पानी का लेवल कितना है समय-समय पर इस बात की भी जांच कर लेनी चाहिए। कई बार पानी खत्म होने पर भी बैटरी में शार्ट सर्किट होता है और विस्फोट हो जाता है।
-बिजली चली जाए और इनवर्टर काम न करें, तो माचिस की रोशनी में इसे न देखें। टॉर्च की रोशनी का इस्तेमाल करें।
वर्जन...
नपा और पुलिस के माध्यम से लोगों को समझाइश दी जाएगी कि वह इस तरह के विस्फोटक उपकरणों की देखरेख करें। प्रशासन संज्ञान लेकर इस तरह की घटनाओं पर जांच कर सकता है। दुकानदारों और रहवासियों को इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के उपयोग को लेकर जारी गाइड लाइन और नियमों का पालन करना चाहिए।
-एसआर यादव, तहसीलदार सेंधवा