स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भारी बारिश के कारण तीन दिन पहले नाले में बह गई महिला, अभी तक नहीें मिला शव

Veerendra Shilpi

Publish: Sep 14, 2019 16:48 PM | Updated: Sep 14, 2019 16:48 PM

Sehore

बाढ़ एवं आपदा प्रबंधन की टीम ने ग्रामीणों के साथ मिलकर नाले में की सर्चिंग

सीहोर. बारिश का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। तेज बारिश के कारण पांचवें दिन शुक्रवार को भी नदी, नाले उफान पर रहे हैं। नदी और नालों में उफान होने के कारण गुरुवार देर शाम को थूनाकलां के नाले में बही महिला का कोई सुराग नहीं मिला है। शुक्रवार को बाढ़ एवं आपदा प्रबंधन टीम के गौताखोर और ग्रामीणों ने दिनभर नाले में सर्चिंग की। अब शनिवार से प्रशिक्षित टीम बोट के जरिए नाले में महिला को खोजने के प्रयास शुरू करेगी।

rain
IMAGE CREDIT: sehore

बारिश का सिलसिला जारी रहा है

शुक्रवार को भी दिनभर रुक-रुक कर बारिश का सिलसिला जारी रहा है। जिले में एक जून से अभी तक 1488.6 एमएम बारिश रेकॉर्ड की जा चुकी है। सुबह 8 बजे की रिपोर्ट के मुताबिक बीते 24 घंटे में 65.2 एमएम औसत बारिश हुई है। सबसे ज्यादा बारिश 110 एमएम श्यामपुर ब्लॉक में रिकॉर्ड की गई है। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले 24 घंटे में सीहोर ब्लॉक में 86, श्यामपुर में 110, आष्टा में 34, जावर में 43, इछावर में 64, नसरुल्लागंज में 64, बुधनी में 56, रेहटी में 64.4 एमएम बारिश बारिश दर्ज की गई है। तेज बारिश के कारण नदी, नाले उफान पर बने हुए हैं। श्यामपुर और आष्टा ब्लॉक के कई गांव का संपर्क कटा हुआ है। बारिश के कारण ग्रामीण परेशान हो रहे हैं।

कुछ दूरी पर नाले में मिली महिला की साड़ी
थूनाकलां में 45 वर्षीय रुकमणी बाई पत्नी लक्ष्मण सिंह मेवाड़ा गुरुवार को किसी काम से बाड़े में गई थी। बाड़े के पास से नाला निकला है। तेज बारिश होने के कारण नाला उफान पर है। अंदेशा है कि महिला का पैर फिसल गया होगा और वह पानी के तेज बहाव के साथ बह गई होगी। महिला की तलाश के लिए शुक्रवार को ग्रामीणों ने आपदा प्रबंधन की टीम के साथ नाले में सर्चिंग की, लेकिन महिला तो नहीं मिली, कुछ दूरी पर उसकी साड़ी मिली है। महिला की तलाश के लिए शनिवार को आपदा प्रबंधन की टीम फिर से सर्चिंग करेगी।