स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ठंड में परीक्षार्थियों से उतरवाए जूते-मौजे, कमिश्नर का निर्णय नहीं आया काम

Kuldeep Saraswat

Publish: Jan 13, 2020 11:51 AM | Updated: Jan 13, 2020 11:51 AM

Sehore

एमपी पीएससी की परीक्षा में 57 परीक्षार्थी रहे अनुपस्थित, 13 सेंटर पर परीक्षा

सीहोर. एमपी पीएससी की परीक्षा में रविवार को जिला प्रशासन ने काफी सख्ती दिखाई है। कड़ाके की ठंड में भी जिला प्रशासन की सख्ती के कारण परीक्षा कक्ष में प्रवेश करने से पहले परीक्षार्थियों को जूते-मौजे उतारने पड़े। हालांकि, कुछ छात्र एक दिन पहले भोपाल में संभाग आयुक्त कल्पना श्रीवास्तव द्वारा दी गई जानकारी कि ठंड को देखते हुए जूते-मौजे की छूट दी जाएगी से खुश थे, लेकिन सीहोर जिले में परीक्षार्थियों को इसकी छूट नहीं मिली, जिसके वे ठंड में काफी परेशान होते दिखे। सबसे ज्यादा परेशान वह छात्र हुए, जिनका पेपर पहली पारी में था।

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

जानकारी के अनुसार लोकसेवा आयोग की राज्य सेवा व राज्य वनसेवा परीक्षा के लिए जिला मुख्यालय पर 13 सेंटर बनाए गए थे। परीक्षा में दर्ज 4 हजार 700 परीक्षार्थियों में से 4 हजार 643 ने पहुंचकर परीक्षा दी, महज 57 छात्र अनुपस्थित रहे हैं। परीक्षा दो चरण में आयोजित की गई। सुबह 10 से 12 और दोपहर 2.15 से 4.15 तक। सबसे ज्यादा परीक्षार्थियों की संख्या पीजी कॉलेज सेंटर पर थी। यहां पर 600 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। परीक्षा कक्ष में प्रवेश करने से पहले परीक्षार्थियों की सख्ती के साथ तलाशी ली गई। सभी परीक्षा केन्द्र पर सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल तैनात किया गया था। परीक्षा के दौरान जिले के आला-अफसर भी सेंटर का जायजा लेते दिखाई दिए।

[MORE_ADVERTISE3]