स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्रदेश में सीहोर को बनाएंगे नंबर वन जिला, सबसे ज्यादा गौशालाएं बनेंगी: अकील

Kuldeep Saraswat

Publish: Dec 08, 2019 13:30 PM | Updated: Dec 08, 2019 13:30 PM

Sehore

सीहोर, श्यामपुर, मैना में प्रभारी मंत्री ने शासकीय कार्यक्रमों को किया संबोधित, पीडि़तों की सुनीं शिकायत

सीहोर. असली आदमी और नकली आदमी को पहचानों। कौन काम करने वाला है, कौन मदद करने वाला है। हमने जो लक्ष्य दिया था गौशालाओं का, वो हम पूरा कर रहे है और निश्चित ही मध्यप्रदेश में सीहोर जिले को नंबर वन जिला बनाएंगे। सबसे ज्यादा गौशाला सीहोर जिले में होंगी। यह बात आष्टा के मैना में आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रभारी मंत्री आरिफ अकील ने कही।

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

उन्होंने कहा कि जिन कर्मचारियों के काम नहीं करने की शिकायत मिल रही थी, उनका ट्रांसफर किया गया है। हमें खुशी है कि हम उन्हें हटाने में कामयाब हुए हैं। कार्यक्रम के दौरान अफसरों ने बताया कि फसल नुकसान को लेकर ग्राम मेना के लिए 2 करोड़ 72 लाख रुपए शासन द्वारा स्वीकृत किए गए हैं। इसका 25 प्रतिशत भुगतान 1259 कृषकों के खाते में एक सप्ताह के भीतर जमा कराया जाएगा, अभी तक 822 कृषकों को 46 लाख रुपए की राहत राशि प्रदान की जा चुकी है। प्रभारी मंत्री अकील सीसी रोड का लोकार्पण भी किया।

[MORE_ADVERTISE3]

सीहोर टाउन हाल में प्रभारी मंत्री आरिफ अकील ने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत आयोजित कार्यक्रम को भी संबोधित किया। उन्होंने योजना के तहत पात्र महिला हितग्राहियों को प्रमाण पत्रों का वितरण किया। ब्रोशर का विमोचन कर मातृ वंदना रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री नि:शक्जन शिक्षा प्रोत्साहन योजना के तहत पात्र हितग्राही को लेपटाप भी दिया। कार्यक्रम के दौरान अफसरों ने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना एक ऐसी योजना है, जिसका लाभ प्रथम जीवित बच्चे से संबंधित सभी गर्भवती महिलाओं एवं धात्री माताओं को मिलेगा। आंगनबाड़ी केन्द्र में पंजीयन के बाद पात्र हितग्राही को प्रोत्साहन राशि के रूप में तीन किश्तों में पांच हजार रुपए की राशि दी जाती है। पहली किश्त एक हजार रुपए की होती है और दूसरी, तीसरी किश्त में 2-2 हजार रुपए दिए जाते हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष उर्मिला मरेठा, कलेक्टर अजय गुप्ता, पुलिस अधीक्षक एसएस चौहान, एडीएम वीके चतुर्वेदी, नगरपालिका अध्यक्ष आष्टा कैलाश परमार, कुलदीप सेठी आदि उपस्थित थे।