स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

165 दुकानदार-संस्थानों को नोटिस, शहर में गंदगी फैलाने के लिए थमाएगी नगर पालिका

Veerendra Shilpi

Publish: Dec 08, 2019 10:31 AM | Updated: Dec 08, 2019 10:31 AM

Sehore

नगर पालिका ने तैयार कराई सूची, 09 दिसंबर से नोटिस देने की होगी शुरूआत..

सीहोर. दुकान, मकान और शादी हाल से निकलने वाली गंदगी को सड़क पर डालने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने सीहोर नगर पालिका ने कमर कस ली है। नगर पालिका ने 165 दुकान, होटल और शादी हाल चिन्हित किए है।

जिनके संचालक और दुकनदारों को सोमवार से नपा द्वारा नोटिस थमाने की कार्रवाई की जाएगी। नोटिस के बाद भी लापरवाही से बाज नहीं आएं तो उनसे जुर्माना वसूलने के साथ ही उनके खिलाफ अन्य कार्रवाई की जाएगी।

पिछले कुछ साल से स्वच्छता सर्वेक्षण में नीचे लुढ़कने के बाद नगर पालिका साल 2020 के सर्वेक्षण में पहले स्थान पर आने तेजी से जुटी हुई है। इसके लिए टीम का गठन किया है वह निगरानी करने के साथ अन्य व्यवस्था कर रही है। बावजूद व्यवस्था में ज्यादा सुधार होने का नाम नहीं ले रहा है।

इसके पीछे दो मुख्य है। एक कई वार्डो में नियमित कचरा वाहन का नहीं पहुंचना, साफ सफाई नहीं होना। वहीं दूसरी वजह है कई दुकान, होटल और मैरिज हाल से निकलने वाली गंदगी को सड़क पर डालना। यह नपा के स्वच्छता सर्वेक्षण में पहला स्थान प्राप्त करने के सपने को तोड़ सकती है। इसे देखते हुए नपा के अफसर हरकत में आए।

[MORE_ADVERTISE1]

थमाएं जाएंगे नोटिस
नपा ने पिछले महीने सड़क पर गंदगी डालने वाले 125 लोगों को नोटिस दिया था। वहीं अब 165 दुकानदार और संचालकों को नोटिस जारी करने की प्रक्रिया चल रही है। इसमें दुकान, होटल और मैरिज गार्डन शामिल है।

नपा अफसरों की माने तो अब नोटिस के बाद समय सीमा में संबंधित दुकानदारों ने सुधार नहीं किया तो उनके खिलाफ सीधे कार्रवाई की जाएगी। वहीं जुर्माना अलग वसूला जाएगा।

उल्लेखनीय है कि नपा नोटिस तो देती है, लेकिन उसके बाद ज्यादा कुछ करती नहीं है, जिससे भी व्यवस्था में बदलाव नहीं आता है। हालांकि इस बार स्वच्छता सर्वेक्षण को देखते हुए जरूर गंभीरता दिखाई जा रही है।

यहां गंदगी के ढेर
गंज से रेलवे स्टेशन रोड, पोस्ट ऑफिस से लाल मस्जिद चौराहा, कस्बा सिपाहीपुरा स्कूल, पलटन एरिया, ग्वाल टोली, मंडी में फ्रीगंज, श्यामपुर रोड, इंग्लिशपुरा, मुरदी गंज सहित अन्य जगह पर आएं दिन गंदगी के ढेर देखे जा सकते हैं। लोगों का कहना है कि इन स्थान में से कई जगह नियमित साफ-सफाई नहीं होती है।

वहीं डोर टू डोर कचरा वाहन भी नियमित नहीं पहुंचता है। इससे कई लोग सड़क पर गंदगी को डालकर चले जाते हैं। यह गंदगी फैलकर पूरी सड़क पर पहुंच जाती है। इससे अन्य लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

नगर पालिका के सफाई अमले की व्यवस्था
नगर पालिका के पास अभी की स्थिति में 200 सफाई कर्मचारी और 11 दरोगा है। इसी तरह से 70 हाथ गाड़ी, 11 डोर टू डोर वाहन, 6 ट्रैक्टर-ट्राली, एक डंपर, एक जेसीबी है। प्रतिदिन 40 टन कचरा निकलता है, जिसे ट्रेचिंग ग्राउंड पर ले जाकर डिस्पोज किया जाता है।

नपा की माने तो अभी सफाई कर्मचारी और संसधान की कमी है। यह पूरी होती है तो काफी हद तक सुधार हो सकता है। स्वच्छता प्रभारी दीपक देवगड़े ने बताया कि पिछले कुछ साल से आबादी तेजी से बढ़ी है उसके हिसाब से नगर पालिका में सफाई कर्मचारियों की संख्या नहीं बढ़ी है। अब भी करीब सौ सफाई कर्मचारियों की आवश्यकता है।

[MORE_ADVERTISE2]

करीब 165 दुकान, होटल और मैरिज गार्डन चिन्हित किए हैं। जहां पर सड़क और मुख्य स्थान पर गंदगी डाली जाती है। उनके दुकानदार और संचालकों को नोटिस देने की प्रक्रिया चल रही है।
- दीपक देवगड़े, स्वच्छता प्रभारी नगर पालिका सीहोर

[MORE_ADVERTISE3]