स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Newborn girl today news : मंदिर के पास मिली लावारिश नवजात बच्ची, अस्पताल में कराया भर्ती , देखें वीडियो

Amit Mishra

Publish: Aug 08, 2019 15:18 PM | Updated: Aug 08, 2019 15:19 PM

Sehore

सीहोर मे गुरुदेव मंदिर मे मिली 2 दिन की नवजात बच्ची
डायल 100 एफ़आरवी ने पहुंचाया अस्पताल
नवजात का चल रहा है इलाज
मजदूर ने इसकी सूचना डायल-100 को दी

सीहोर। जिले के इछावरsehore थाना क्षेत्र के देवड़िया रोड़ पर स्थित गुरुदेव मंदिर के अंदर एक लावारिस नवजात Newborn girl news बच्ची मिली है। जानकारी के अनुसार थाना इछावर के देवड़िया रोड़ पर एक मजदूर अपने खेत पर जा रहा था तभी उसको गुरुदेव मंदिर के अंदर से बच्चे की रोने की आवाज baby crying सुनाई दी।

 

 

पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही
मंदिर के अंदर जब मजदूर अंदर गया तो वहां पर उन्होंने बच्ची को देखा। मजदूर ने इसकी सूचना तत्काल डायल-100 को दी। डायल 100 कंट्रोल रूम में सूचना प्राप्त होते ही एफ़आरवी को रवाना किया गया। डायल-100 एफ़आरवी पुलिस स्टाफ देवराज वर्मा तथा पायलेट घनश्याम वर्मा मंदिर के पास पहुंचे और बच्ची को अपने साथ लेकर तत्काल डायल-100 वाहन की मदद से शासकीय अस्पताल इछावर में भर्ती कराया। थाना इछावर पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही है।

 

mp

नवजात का चल रहा है इलाज
जानकारी के मुताबिक शासकीय अस्पताल इछावर में बच्ची को भर्ती कराया गया है। जहां बच्ची का इलाज किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि बच्ची पूरी तरह से स्वस्थ है। लोगो का कहना है कि किसी ने रात में बच्ची को यहां छोड़कर चला गया है। रात होने के कारण किसी ने ध्यान नहीं दिया और जब सुबह इस रास्ते से गुजर रहे मजदूर को बच्ची के रोने की आवाज आई तो मामले का पता चला।

 

लावारिस हालत में मिली थी नवजात
इसके पहले मध्यप्रदेश के दमोह जिले में एक नवजात लावारिस हालत में मिली थी।बटियागढ़ थाना क्षेत्र के तिंदुआ सेंड़ारा गांव के लोग सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले थे तभी कोटवार के पास एक बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी थी। सभी ने पास जाकर देखा तो एक नवजात लावारिस हालत में पड़ा हुआ था,जिसके बाद तुरंत पुलिस को सूचना दी गई थी। जानकारी लगते ही मौके पर पहुंची नवजात को अस्पताल लेकर पहुंची थी। जहां उसका तुरंत इलाज शुरू किया गया जिससे नवजात बच्ची की जान बच सकी थी। पुलिस ये पता लगाने में जुट गई कि इस बच्ची के मां-बाप कौन हैं और किसने इस नवजात को ऐसे मरने के लिए छोड़ दिया था।