स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

MP Board Exam 2019-20: इस बार 2 व 3 मार्च से होंगी बोर्ड परीक्षाएं! बस डेटशीट का इंतजार...

Deepesh Tiwari

Publish: Dec 08, 2019 13:41 PM | Updated: Dec 08, 2019 13:41 PM

Sehore

MP board exam schedule 2020: बोर्ड परीक्षाओं के शेड्यूल...

भोपाल। बोर्ड परीक्षाओं को लेकर छात्र छात्राएं ही नहीं उनके माता पिता भी काफी चिंतित रहते हैं। ऐसे में हर साल होने वाली इन परीक्षाओं को लेकर होने वाले नए निर्णय या जानकारी इन्हें हमेशा अपडेट रखने के काम में आती है। जो समय समय पर मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षण मंडल द्वारा दी जाती रहती है, जिससे तनाव की स्थिति में कुछ कमी आ सके।

ऐसी ही एक जानकारी बोर्ड परीक्षाओं के शेड्यूल को लेकर सामने आ रही है, जिसके अनुसार मध्यप्रदेश में कक्षा 10वीं और 12वीं की कक्षा की परीक्षा क्रमश: तीन मार्च व दो मार्च 2020 से शुरू होने की संभावना है।

[MORE_ADVERTISE1]

ज्ञात हो कि मध्यप्रदेश में इस बार की 10वीं और 12वीं कक्षाओं की परीक्षा में 19 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी हिस्सा लेने जा रहे हैं। इनमें से करीब चार लाख विद्यार्थी प्राइवेट कैंडिडेट होंगे।

बताया जाता है कि मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षण मंडल द्वारा संचालित की जाने वाली ये परीक्षाएं शिक्षण मंडल द्वारा शैक्षणिक सत्र 2020 के मार्च में शुरू होंगी।

जिसके तहत कक्षा 10वीं यानी हाई स्कूल की परीक्षा तीन मार्च, जबकि 12वीं यानी हायर सेकेंडरी स्कूल की परीक्षा दो मार्च 2020 से शुरू होने की संभावना जताई जा रही है।

[MORE_ADVERTISE2]

वहीं इस बार प्राइवेट श्रेणी से परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को प्रोजेक्ट के लिए अलग से 20 अंक मिल सकते हैं, लेकिन ये तब हो सकेगा जब विभाग को इसकी अनुमति मिलेगी। इसके लिए शिक्षा मंडल शासन को पत्र लिख चुका है।

इसके अलावा यदि परीक्षा की आधिकारिक डेटशीट की बात करें, तो बताया जा रहा है कि मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षण मंडल एक सप्ताह के अंदर टाइम टेबल जारी कर सकता है।

[MORE_ADVERTISE3]

आ रही सूचना के अनुसार परीक्षा केंद्रों की सूची भी एक हफ्ते के अंदर जारी की जा सकती है। जबकि विभाग के अधिकारियों का कहना है कि पूर्व में कई जिलों में परीक्षा केंद्रों के लिए निर्धारित मानदंडों का पालन नहीं किया गया था।

ऐसी जगहों पर सरकारी स्कूल होने के बावजूद कई जगहों पर निजी स्कूलों को परीक्षा केंद्र की प्रस्तावित सूची मेें शामिल कर दिया गया था।

वहीं, कुछ जगहों पर क्षमता से ज्यादा विद्यार्थियों की संख्या दर्ज कर दी गई थी। इसलिए प्रस्तावित सूची वापस कर दी गई है। नई सूची कई जिलों ने भेज दी है। अब जल्द ही इसे अंतिम रूप देकर जारी कर दिया जाएगा।