स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बंदरिया का बच्चा हुआ घायल, खुद ही लेकर पहुंच गई अस्पताल, हैरान कर देंगी तस्वीरें

Faiz Mubarak

Publish: Nov 07, 2019 19:38 PM | Updated: Nov 10, 2019 14:22 PM

Sehore

मां के प्यार का कुछ ऐसा ही अजीबो-गरीब नज़ारा हाल ही में मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में देखने को मिला। जब अपने घायल बच्चे को लेकर एक बंदरिया खुद पशु अस्पताल पहुंच गई।

सीहोर/ कहते हैं मां से ज्यादा प्रेम कोई और किसी को कर नहीं सकता। एक मां ही अपने बच्चों के प्रति हमेशा संवेदनशील रहती है। इंसानों में ही नहीं ये प्रेम और संवेदनशीलता हमें जानवरों में भी देखने को मिल जाती है। मां के प्यार का कुछ ऐसा ही अजीबो-गरीब नज़ारा हाल ही में मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में देखने को मिला। जब अपने घायल बच्चे को लेकर एक बंदरिया खुद पशु अस्पताल पहुंच गई। जिसने भी ये नज़ारा देखा वो हैरान रह गया।

 

पढ़ें ये खास खबर- पातालकोट और नरो हिल्स को मिली दुनियाभर में पहचान, इस खास विरासत को सहेजेगी सरकार


नजारा जिसने देखा रह गया हैरान

[MORE_ADVERTISE1]बंदरिया का बच्चा हुआ घायल, खुद ही लेकर पहुंच गई अस्पताल, हैरान कर देंगी तस्वीरें[MORE_ADVERTISE2]

दरअसल, खुले तार से को छूने पर बंदरिया के बच्चे को करंट लग गया, जिससे वो बेहोश हो गया। उस समय उस नन्हे बंदर की मां भी उसके साथ थी। जब बच्चे को करंट लगा तो उस समय वहां कई लोग भी मौजूद थे, लेकिन बंदरिया के उत्तेजित हो जाने के खतरे से उसके पास नहीं गए। लेकिन तभी बंदरिया की संवेदनशीलता देखकर सभी लोग हैरान हो गए। बंदरिया ने अपने बेहोश बच्चे को उठाया और तत्काल पास ही में स्थित पशु चिकित्सालय लेकर पहुंच गई।

 

पढ़ें ये खास खबर- लॉग ड्राइव पर संभाल कर रखें टोल की रसीदें, मिलेंगे ये खास फायदे


मां की ममता की मिसाल

[MORE_ADVERTISE3]बंदरिया का बच्चा हुआ घायल, खुद ही लेकर पहुंच गई अस्पताल, हैरान कर देंगी तस्वीरें

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि, बंदरिया के बच्चे को शहर के नज़दीक बनी पुरानी जेल के बाहर 11 केबी के लाइन से झटका लग गया था। बिजली के संपर्क में आकर वो झुलसकर बेहोश हो गया था। जैसे ही बंदरिया के बच्चे को करंट लगा तो वो बेहोश होकर नीचे जमीन पर गिर गया। बच्चे के नीचे गिरते ही बंदरिया ने फौरन उसे उठाया और मूं में दबाकर नजदीक के पशु चिकित्सालय में ले जाकर उसके गेट पर बैठ गई। पहले किसी भी व्यक्ति की बंदरिया के पास जाने की हिम्मत नहीं हो पा रही थी, लेकिन जब पशु चिकित्सक माजरा समझे तो उन्होंने किसी तरह बंदरिया के बच्चे को अपने कब्जे में लिया और उसका परीक्षण किया। हालांकि, जांच में सामने आया कि, काफी तेज झटका लगने से बंदरिये के बच्चे की मौत हो गई थी।