स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भगवान की भक्ति मार्ग अपना लोगे तो जीवन हो जाएगा सफल- अखिलेश्वरी

Anil Kumar

Publish: Dec 07, 2019 16:11 PM | Updated: Dec 07, 2019 16:11 PM

Sehore

श्रीराम कथा में अंतिम दिन काफी संख्या में शामिल हुए श्रद्धालु

आष्टा.
भगवान की भक्ति मार्ग ही ऐसा मार्ग है जिस पर चलने वाले व्यक्ति का जीवन सफल हो जाता है। यह तक ही नहीं अगला भव भी सुधर जाता है। इसलिए इस मार्ग पर चलकर जीवन को सुधारे।

[MORE_ADVERTISE1]

यह बात गवाखेड़ा में चल रही श्रीराम कथा में अंतिम दिन साध्वी अखिलेश्वरी ने कहीं। कथावाचक ने कहा कि रामकथा एक धार्मिक, पवित्र, पूज्यनी ग्रंथ होने के साथ रामजी के आदर्श व उनके शासन व्यवस्था हमारे जीवन के लिए उच्च उदाहरण है। जो हमें जीवन के संघर्षों से लडऩे की हिम्मत देकर जीने की प्रेरणा देती है। श्रीराम के जीवन के प्रत्येक प्रसंग ने सहजता, प्रेम, मर्यादा, शांति, एकता, सद्भाव कि शिक्षा मिलती है। साध्वी ने कहा कि अगर भगवान राम के आदर्श यदि हम अपने जीवन में पूरी तरह अपना ले तो अवश्य ही पूरे राष्ट्र में रामराज्य की स्थापना अपने आप हो जाएगी।

[MORE_ADVERTISE2]

जीवन को काल्पनिक बता दिया
साध्वी ने कहा कि वर्तमान में हम ऐसे राष्ट्र में जी रहे है, जहां केवल स्वार्थ, द्वेष, असन्तोष, ईष्र्या, चोरी, अनैतिकता, हिंसा ही नजर आते हंै। सनातन राष्ट्र के ही कुछ मन्दबुद्धियों ने श्रीराम व उनके जीवन को काल्पनिक बता दिया। ऐसे व्यक्ति अपने आप में दानव तुल्य होने के साथ कन्या, गौमाता व पर्यावरण के भी शत्रु है। हमें आज इन शत्रुओं से इन तीनों का संरक्षण, संवर्धन करना ही होगा। सनातन राष्ट्र, गौमाता, कन्या, स्त्री का सम्मान रक्षा करके सनातन धर्म को आगे की और बढाते हुए राष्ट्र का विकास करने में सहयोग देते रहे। तभी श्रीराम को वास्तविक रूप में हम पूज पाएंगे। कथा में काफी संख्या में श्रद्धालुओं ने पहुंचकर धर्मलाभ लिया।

[MORE_ADVERTISE3]