स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गांवों में स्वच्छता नदारद, सड़कों पर बह रही गंदगी, ग्रामीण परेशान

Veerendra Shilpi

Publish: Nov 15, 2019 09:24 AM | Updated: Nov 15, 2019 09:24 AM

Sehore

शिकायत के बाद भी नहीं हो रही सुनवाई, महिलाओं और बच्चों को आवागमन में होती है परेशानी

सीहोर/रेहटी/इछावर. शासन के लाख प्रयास के बावजूद भी अंचल के गांवों में स्वच्छता का असर कहीं दिखाई नहीं दे रहा है। ग्राम पंचायत द्वारा गांवों में नालियों का निर्माण नहीं कराए जाने और नियमित साफ-सफाई के अभाव में नालियों का गंदा पानी सड़कों पर बह रहा है।

ऐसे में गांवों की सड़कों पर लोगों का पैदल निकलना तक मुश्किल हो गया है। सबसे ज्यादा परेशानी स्कूल जाने वाले छोटे-छोटे बच्चों और महिलाओं को उठाना पड़ रही है।

ग्रामीणों ने बताया कि बार-बार जिम्मेदारों से शिकायत के बाद भी साफ-सफाई और नाली निर्माण की ओर पंचायत का कोई ध्यान नहीं है। यह हालात तहसील अंतर्गत आने वाले ग्रामों के हैं। ग्राम बड़कुल में मंदिर के सामने, नयागांव में हर सड़क पर यही हालात हैं।

गांव ककरदा में सड़कों पर एक-एक फीट पानी भरा है, गोडी गुराडिय़ा में पर स्कूल के सामने पानी भरा है सड़क नहीं बनने के कारण छोटे-छोटे बच्चों को निकलने में खाली परेशानी उठना पड़ती है। इसी प्रकार ग्राम पंचायत नयागांव के अंतर्गत आने वाले ग्राम मालीबायां में यात्री प्रतीक्षालय के सामने गंदगी का अंबार लगा हुआ है।

यात्री प्रतीक्षालय के पास में बने शौचालय से निकलने वाली गंदगी प्रतीक्षालय के सामने ही रोड पर जमा हो जाती है जिसके कारण यहां पर बदबू ही बदबू व्याप्त है। बदबू के कारण यात्रियों के लिए यहां खड़ा होना बहुत ही मुश्किल होता है।

यदि कोई भूल से यहां खड़ा हो भी जाए तो सड़क पर से निकलने वाले वाहन तेज गति से निकलते हुए इस गंदगी से छींटे मार जाता है। इसी कारण से यह प्रतीक्षालय अनुपयोगी साबित हो रहा है। ज्ञातव्य है कि सलकनपुर देवीधाम समीप होने के कारण मालीबायां चौराहा एक विशेष महत्व रखता है।

तहसील का सबसे व्यस्ततम चौराहा होता है, क्योंकि यह चौराहा स्टेट हाईवे 12 पर होने के साथ-साथ इस मार्ग को भोपाल एवं होशंगाबाद से भी जोड़ता है। मालीबायां के ग्रामीण एवं दुकानदार हबीबुल्ला, सुमेर, रमेश आदि ने बताया कि यहां पर चौराहे को चौड़ा कर सौंदर्यीकरण बहुत ही जरूरी है।

मनोहर लाल गुप्ता ने कहा कि हम कई बार अधिकारियों एवं प्रशासन से साफ-सफाई और इस चौराहे के सौंदर्यरीकरण की मांग कर चुके हैं। इसके बावजूद भीइस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

[MORE_ADVERTISE1]

इधर, नालियों के अभाव में सड़कों पर फैली गंदगी
वहीं दूसरी ओर इछावर ग्राम पंचायत विकास कराने का जोर शोर से ढिंढोरा पीट रही है, लेकिन यह जमीनी स्तर पर मूर्त रूप नहीं ले सका है। इसके चलते ग्रामीणों को लंबे समय से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसकी झलक इछावर ब्लॉक के ग्राम आमला रामजीपुरा में देखी जा सकती है।

पंचयत द्वारा ग्राम के अंदर नालिया बनाना उचित नहीं समझा हैं। इस कारण नालियों के अभाव में गंदा पानी सड़क पर बहता रहता है। इसी से लोगों को आवाजाही करना पड़ रही है। कई बार पैर फिसलने से लोग गिर भी जाते हैं। लोगों ने बताया कि उनकी तरफ से ग्राम पंचायत को इस समस्या से अवगत कराया है। इसके बावजूद भी पंचायत द्वारा लापरवाही दिखाते हुए इस दिशा में ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जिसका खामियाजा ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा है।

आपके द्वारा उक्त गंदगी के बारे में मेरे संज्ञान में आया है। मैं तत्काल ग्राम पंचायत सचिव को फोन पर निर्देशित करुंगा। शीघ्र ही वहां पर व्याप्त गंदगी को हटाकर यात्री प्रतीक्षालय को व्यवस्थित कर दिया जाएगा।।
- धर्मेन्द्र यादव, सीईओ जपं बुदनी

[MORE_ADVERTISE2]