स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गुरुनानक देव का 550वां प्रकाश पर्व उत्साह से मनाया

Radheshyam Rai

Publish: Nov 13, 2019 12:41 PM | Updated: Nov 13, 2019 12:41 PM

Sehore

सुबह 9.30 बजे गुरुद्वारे पर निशान साहिब चढ़ाया...

सीहोर. सिखों के प्रथम धर्मगुरु नानक देव का 550वां प्रकाश पर्व नगर के गुरुद्वारे में पूरी श्रद्धा भाव के साथ मनाया गया। गुरुद्वारा भारत पेट्रोल पंप पर गुरु नानक जयंती की पूर्व संध्या पर गुरुद्वारे को बिजली की रोशनी एवं फूलों से सजाया गया। मंगलवार को सुबह 9.30 बजे गुरुद्वारे पर निशान साहिब चढ़ाया गया। जिसमें गुरुद्वारा प्रबंध कमेटी के अध्यक्ष सुभाष पंजाबी, ट्राइडेंट कंपनी की ओर से सूबेदार गुरजंट सिंह, हरजीत सिंह, सुखदीप सिंह, अमनदीप सिंह, सुखविंदर सिंह, जसविंदर सिंह, बेअंत सिंह, जगदीप सिंह, सुखचैन मौजूद रहे।

गुरुद्वारा प्रबंध कमेटी की ओर से सुभाष पंजाबी, दुलाराम पंजाबी, सरदार मोहन सिंह, सरदार बलजीत सिंह, डॉक्टर रमेश चंद शर्मा, ओपी तनेजा को सरोपा भेंट किया गया। विशेष अरदास के उपरांत सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक लंगर का आयोजन किया गया। जिसमें सैकड़ों लोगों द्वारा भोजन ग्रहण किया गया। गुरुद्वारा प्रबंध कमेटी के अध्यक्ष सुभाष पंजाबी द्वारा कार्यक्रम में आए सभी श्रद्धालुओं एवं सहयोगियों का आभार व्यक्त किया गया।

[MORE_ADVERTISE1]

गुरुनानक देव के जयकारों से गूंजा नगर
वहीं दूसरी ओर कालापीपल में भी सिख समाज के पहले गुरु श्रीगुरुनानक देव का 550 वां प्रकाश उत्सव मंगलवार को श्रद्धा भाव से मनाया गया। इस उपलक्ष्य में सिख संगत द्वारा नगर के मुख्य मार्गों से सुबह 5 बजे प्रभात फेरी निकाली गई। इस बार 550 वां प्रकाश उत्सव को लेकर गुरुद्वारे पर विशेष विद्युत सज्जा की गई । गुरु सिंह सभा के प्रधान करतार सिंह गुरुदत्ता ने बताया कि श्री गुरुनानक देव जी के प्रकाश पर्व के 10 दिन पूर्व से ही नगर में प्रतिदिन सुबह प्रभातफेरी का आयोजन किया जा रहा है।

[MORE_ADVERTISE2]

श्री गुरुनानक जयंती विशेष दीवान सुबह 10 बजे सजाया जाएगा। वहीं गुरु का अटूट लंगर दोपहर 12 बजे से शुरू हुआ जो करीब 3 बजे तक चला। जिसमें जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों ने लंगर में अपनी सेवाएं दी। वही रात रात 8.30से 11 बजे तक कवि दरबार का आयोजन किया गया।

12 बजे मुख्य अरदास के बाद समाज जनों द्वारा आतिशबाजी की। इस अवसर पर बच्चों व महिलाओं के लिए प्रतियोगिताओं का आयोजन हुआ और पुरस्कार वितरण समारोह संपन्न हुआ। समिति के प्रमुख हरविंदर सिंह पाहुजा, परमजीत सिंह मक्कड़, करतार सिंह गुरुदत्ता, संतोख सिंह गुरुदत्ता, सरबजीत सिंह मक्कड़, जोगेंदर सिंह छाबड़ा, राजेंद्र सिंह, देवेंद्र सिंह पाहुजा ने कार्यक्रमों में हिस्सा लिया।

[MORE_ADVERTISE3]