स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एडीएम ने निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर उठाए सवाल, ईई के जांच के लिए लिखा पत्र

Kuldeep Saraswat

Publish: Dec 07, 2019 16:20 PM | Updated: Dec 07, 2019 16:20 PM

Sehore

एडीएम ने निर्माण कार्यों का किया निरीक्षण, घटिया निर्माण को लेकर व्यक्त की नाराजगी

सीहोर. आष्टा ब्लॉक के निर्माणाधीन सड़क पुल-पुलिया और भवनों की गुणवत्ता की जांच के लिए शुक्रवार को एडीएम वीके चतुर्वेदी ने सिद्दीकगंज क्षेत्र का दौरा किया। एडीएम चतुर्वेदी सबसे पहले सिद्दीकगंज में निर्माणाधीन टप्पा तहसील कार्यालय के भवन का जायजा लेने पहुंचे। टप्पा तहसील कार्यालय भवन का निर्माण पीआईयू के द्वारा कराया जा रहा है।

[MORE_ADVERTISE1]

एडीएम ने भवन निर्माण का निरीक्षण करते हुए पीआईयू के अफसरों को निर्माण कार्य में तेजी लाने के आदेश दिए। एडीएम चतुर्वेदी ने भवन निर्माण की गुणवत्ता पर भी सवाल उठाए हैं। एडीएम ने निर्माण कार्य की गुणवत्ता की जांच के लिए सेंपल लैब के लिए भेजने की कार्रवाई करने पीआईयू के ईई को पत्र लिखा है। टप्पा तहसील कार्यालय भवन का निरीक्षण करने के बाद एडीएम खाचरोद-सिद्दीकगंज मार्ग पर निर्माणाधीन पुल का जायजा लेने पहुंचे।

[MORE_ADVERTISE2]

पुल का निर्माण दो करोड़ 85 लाख रुपए की लागत से किया जा रहा है इस पुल की लंबाई करीब 60 मीटर है। पुल का निर्माण डेड लाइन में पूर्ण नहीं होने को लेकर एडीएम ने नाराजगी व्यक्त की। पुल का निर्माण ब्रिज कार्पोरेशन द्वारा किया जा रहा है। एडीएम ने ब्रिज कार्पोरेशन के ईई को पत्र लिख निर्माण एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई की अनुशंसा की है। एडीएम ने पीडब्ल्यूडी ईई को पत्र लिख नीलबढ़ से सिद्दीकगंज और खजूरियाकासम मार्ग का मेंटनेंस कराने की सिफारिश भी की है।

[MORE_ADVERTISE3]