स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वैज्ञानिकों ने खोज निकाला 14 करोड़ साल पहले समुद्र में डूबा महाद्वीप, किए कई चौंकाने वाले खुलासे

Prakash Chand Joshi

Publish: Oct 04, 2019 15:13 PM | Updated: Oct 04, 2019 15:13 PM

Science and Tech

  • यहां हर साल लोग आते हैं छुट्टी मनाने

नई दिल्ली: वैज्ञानिक एक ऐसा नाम जो हमेशा ही कुछ न कुछ खोजने या फिर नया इजात करने में लगे रहते हैं। इसके पीछे वैज्ञानिकों की सालों की कड़ी मेहनत भी झलकती है। वो अपनी लाइफ छोड़कर इन चीजों की खोज में लग जाते हैं, जिससे दुनिया का भला हो सके। ऐसा ही कुछ इस बार भी वैज्ञानिकों के हाथ लगा है, जो हर किसी को हैरान कर रहा है।

science2.png

क्या मिला वैज्ञानिकों को

इस बार जो वैज्ञानिकों को मिला है उसे जानकर पूरी दुनिया हैरान है। दरअसल, भूमध्य सागर में वैज्ञानिकों ने एक छिपे हुए महाद्वीप की खोज की है। इसका नाम ग्रेटर एड्रिया है। साथ ही वैज्ञानिकों ने ये साफ किया है ये अलांटिस का खोया हुआ शहर नहीं है। गोंडवाना रिसर्च जर्नल में छपी एक रिपोर्ट में पिछले महीने इस बात का खुलासा हुआ कि ग्रीनलैंड के आकार का ये महाद्वीप लगभग 14 करोड़ साल पहले उत्तरी अफ्रीका से अलग होकर भूमध्य सागर में डूब गया था।

science1.png

किसी को नहीं था पता

वैज्ञानिकों के मुताबिक, इस महाद्वीप का ज्यादातर भाग पानी के अंदर था, जो छिछले समुद्रों, प्रवार भित्तियों और तलछटों से ढका हुआ था। उट्रेक्त विश्वविद्यालय में वैश्विक टेक्टोनिक्स और पैलियोजियोग्राफी के प्रोफेसर डेव वान हिंसबर्गेन ने कहा कि यहां हर साल काफी संख्या में पर्यटक छुट्टियां मनाने आते हैं, लेकिन किसी को इस बात का पता नहीं है। प्रोफेसर डेव के मुताबिक, जांच में मिला कि ग्रेटर एड्रिया की अधिकांश पर्वत श्रृंखलाएं एकल महाद्वीप से उत्पन्न हुई थीं। ये पर्वत श्रृंखलाएं 20 करोड़ साल पहले उत्तरी अफ्रीका से अलग हुई थीं।