स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आखिर किस लिए अंतरिक्ष में भेजी गईं वाइन की बोतलें? अंतरिक्ष यात्री नहीं पी पाएंगे

Priya Singh

Publish: Nov 06, 2019 12:32 PM | Updated: Nov 06, 2019 12:32 PM

Science and Tech

  • फ्रेंच वाइन को भेजने से पहले भी अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर स्कॉच और व्हिस्की से भरी बोतलें भी भेजी जा चुकी हैं
  • अंतरिक्ष की भारहीनता और विकिरण का शराब और पेय पदार्थों की उम्र पर क्या असर पड़ता है

नई दिल्ली। विज्ञान और उसकी खोज की कोई सीमा नहीं है। हाल ही में अंतरिक्ष पर करीब एक दर्जन वाइन की बोतलें भेजी गई हैं, लेकिन शराब की ये बोतलें अंतरिक्षयात्रियों के पीने के लिए नहीं बल्कि किसी शोध के तहत भेजी गई हैं। फ्रेंच वाइन को भेजने से पहले भी अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर स्कॉच और व्हिस्की से भरी बोतलें भी भेजी जा चुकी हैं। वैज्ञानिकों का इसे अंतरिक्ष में भेजने के पीछे मकसद है कि वे देखना चाहते हैं कि अंतरिक्ष की भारहीनता और विकिरण का शराब और पेय पदार्थों की उम्र पर क्या असर पड़ता है। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ये बोतलें अंतरिक्ष में करीब एक साल तक रखी जाएंगी।

नींद पूरी न होने पर जंक फूड खाने का है वैज्ञानिक कारण

[MORE_ADVERTISE1]wine_in_space.png[MORE_ADVERTISE2]

इस शोध का उद्देश्य है पेय पदार्थों में स्वाद और खूबियों का विकास करना है। वाइन की इन बोतलों को धातु के कंटेनर में पैक किया गया था ताकि उन्हें नुक्सान न पहुंचे। इस शोध में जर्मनी और फ्रांस की दो यूनिवर्सिटियां हिस्सा ले रही हैं। वाइन इसलिए भेजी गई है क्यों कि समय के साथ उसमें रासायनिक प्रक्रिया होती है।

वैज्ञानिकों ने अवशेषों से बनाया असली चेहरा, 1 हजार साल पहले हुई थी महिला की मौत

[MORE_ADVERTISE3]iss.jpg

शोधकर्ताओं का दावा है कि अगर ये शोध सार्थक हो गई तो भविष्य में कृषि के बारे में कई अहम जानकारी मिलेगी। अगले तीन सालों तक छह अंतरिक्ष मिशन में ये शराब की बोतलें भेजी जाएंगी। अगर इन बोतलों में भरी शराब के स्वाद और गुणवत्ता में इजाफा होता है तो शराब उद्योग में एक नई क्रांति आएगी। साथ अंतरिक्ष में भेजी गई वाइन का स्वाद भी लिया जाया जा सकता है।

नील आर्मस्ट्रांग ने चांद से वापस आते ही मांगी थी इंदिरा गांधी से माफी, ये थी इसके पीछे की वजह