स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बालिका स्कूल के शौचालय में मिले गुटखा व तम्बाकू के पाउच

Arun Kumar Verma

Publish: Aug 23, 2019 13:43 PM | Updated: Aug 23, 2019 13:43 PM

Sawai Madhopur

निरीक्षण: एसडीएम ने पूछा कौन करता है सेवन, तो बगले झांकने लगे कार्मिक

मलारना डूंगर. पोषाहार निरीक्षण अभियान के तहत उपजिला कलक्टर मनोज वर्मा गुरुवार को कस्बे के दोनों बड़े सरकारी स्कूलों में निरीक्षण करने पहुंचे। जहां निरीक्षण के दौरान विद्यालयों में खामियां देख एसडीएम का माथा ठनक गया। इस दौरान राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय के शौचालय में गुटखा व तम्बाकू के पाउच मिले।


बालिका स्कूल के शौचालय में प्रतिबंधित सामग्री के फटे हुए पाउच मिलने से एसडीएम ने प्रधानाचार्या को लताड़ लगाई। एसडीएम ने कहा कि बालिका स्कूल के अंदर गुटखा व तम्बाकू का सेवन कौन कर रहा। इस पर स्टाफ बगले झांकने लगे। इसके अलावा कक्षा कक्षों में साफ सफाई का अभाव मिला। पोषाहार के साथ ही शैक्षणिक गुणवत्ता की भी जांच की। इसी तरह राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में तीन कक्षाओं में छात्र बिना अध्यापक के अध्ययन कर रहे थे। पता करने पर शिक्षक स्टाफ रूम में बैठे मिले। एसडीएम ने प्रधानाचार्य से शिक्षकों के कक्ष की जगह स्टाफ रूम में बैठे रहने का कारण पूछा तो संतोषजनक जवाब नहीं दे सके। एसडीएम ने बताया कि निरीक्षण के दौरान दर्जनों विद्यार्थी क्लास रूम के बाहर घूम रहे थे। छात्रों के बैठने के लिए फर्श तक नहीं दिया गया। विद्यालय की चारदीवारी क्षतिग्रस्त है। पोषाहार की गुणवत्ता भी परखी गई। पोषाहार की जांच रिपोर्ट सीधे ही उच्च अधिकारियों को भेजेंगे। इसके अलावा शैक्षिक गुणवत्ता कमजोर पाई गई। ज्यादातर छात्र सामान्य जोड़, बाकी भी हल नहीं कर पाए। इस पर एसडीएम ने शिक्षा का स्तर सुधारने के निर्देश दिए। (निसं.)


भाड़ौती. कस्बे सहित आसपास के क्षेत्र में गुरुवार को मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी रामकेश मीणा द्वारा राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय देवली,र ाजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय भाड़ौती तथा कार्यक्रम अधिकारी किरोड़ी लाल मीणा द्वारा राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय भारजा, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय गम्भीरा में पोषाहार का निरीक्षण किया गया। विद्यालयों में पोषाहार बनाने, पोषाहार भंडारण की उचित व्यवस्था, पोषाहार वितरण की जानकारी ली।


बाटोदा. क्षेत्र के विभिन्न राजकीय विद्यालयों में संचालित कक्षा 1 से 8 तक के लिए मिड डे मील योजना व अन्नपूर्णा दुग्ध योजना की जांच व भौतिक सत्यापन के लिए शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बुधवार, गुरुवार को औचक एवं सघन निरीक्षण किया। एसीबीईओ प्रथम गंगासहाय मीणा ने क्षेत्र के फुलवाड़ा जाखोलास कलां, निवालिया ढाणी, क्यारा ढाणी आदि विद्यालयों में पोषाहार व दूध की जांच की। संदर्भ प्रभारी मुकेश मीणा ने सुंदरी व बिछोछ ग्राम पंचायत की स्कूलों की जांच की। इस दौरान अधिकारियों ने पोषाहार व दूध योजना को अधिक गुणवत्तापूर्ण करने के सुझाव दिए।