स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बड़ी मात्रा में मिली अवैध दवाइयां, कई प्रतिबंधित भी

Vijay Kumar Joliya

Publish: Sep 22, 2019 12:57 PM | Updated: Sep 22, 2019 12:57 PM

Sawai Madhopur

चिकित्सा विभाग का छापा: झोलाछाप डॉक्टरों पर बड़ी कार्रवाई

बौंली. उप तहसील मित्रपुरा में मरीजों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ करते झोलाछाप डॉक्टरों को लेकर लगातार मिल रही शिकायतों के बाद आखिरकार चिकित्सा विभाग हरकत में आया और शनिवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तेजराम मीणा ने टीम के साथ झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ छापेमार कार्रवाई की। इस दौरान उन्होंने मरीजों का इलाज करते झोलाछाप डॉक्टर को पकड़ा और बड़ी मात्रा में दवाइयां जब्त की। झोलाछाप डॉक्टर विजय सरकार बंगाली है और मित्रपुरा में पिछले 8-10 साल से क्लिनिक चला रहा है। कार्रवाई के दौरान क्लिनिक से बड़ी मात्रा में दवाइयां मिली है ।


लाइसेंस नहीं, फिर भी दवाइयों का बड़ा जखीरा : सीएमएचओ के अनुसार दवाइयां सवाई माधोपुर की एक फर्म द्वारा झोलाछाप डॉक्टर को सप्लाई की जा रही है। झोलाछाप डॉक्टर के पास फार्मासिस्ट का लाइसेंस नहीं होने के बावजूद फर्म द्वारा उसे दवाइयों की सप्लाई की जा रही है, जो कानूनन गलत है। जब्त की गई दवाइयों में कई दवाइयां प्रतिबंधित है। सीएमएचओ के अनुसार झोलाछाप डॉक्टर विजय सरकार के खिलाफ बौंली थाने में मामला दर्ज कराया जाएगा। साथ ही दवा सप्लाई करने वाली फर्म के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।


अभियान चलाकर की जाएगी कार्रवाई
जिले में झोलाछाप डॉक्टरों की भरमार है। जो लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। ऐसे झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ चिकित्सा विभाग द्वारा अभियान चलाकर लगातार कार्रवाई की जाएगी। चिकित्सा विभाग की कार्रवाई के दौरान मित्रपुरा कस्बे की गली मोहल्लों में फर्जी तरीके से क्लिनिक संचालन कर रहे 10-12 झोलाछाप डॉक्टर अपनी क्लिनिक बंद कर भाग खड़े हुए।

  • विजय सरकार के क्लिनिक पर कार्रवाई के दौरान भारी मात्रा में अवैध दवाइयां पाई गई। जिन्हें जब्त कर लिया है। साथ ही बौंली थाने पर मामला दर्ज कराया जाएगा व झोलाछाप चिकित्सक के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी।
    तेजराम मीणा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, सवाईमाधोपुर