स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रणथम्भौर राष्ट्रीय उद्यान: बाघ के हमले से बकरियां चरा रहे युवक की दर्दनाक मौत

abdul bari

Publish: Sep 22, 2019 00:15 AM | Updated: Sep 22, 2019 00:15 AM

Sawai Madhopur

रणथम्भौर राष्ट्रीय उद्यान ( Ranthambore National Park ) की खण्डार रेंज में एक बार फिर बाघ के हमले ( tiger attack ) में एक जने की मौत ( death in tiger attack ) का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार मृतक चिरंजी लाल गुर्जर सुबह जंगल में बकरी चराने गया था, लेकिन देर शाम तक भी नहीं लौटा। ऐसे में ग्रामीण उसको ढूंढने के लिए जंगल गए, तो वहां उसका शव मिला।

सवाईमाधोपुर.

रणथम्भौर राष्ट्रीय उद्यान ( Ranthambore National Park ) की खण्डार रेंज में एक बार फिर बाघ के हमले ( tiger attack ) में एक जने की मौत ( death in tiger attack ) का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार मृतक चिरंजी लाल गुर्जर सुबह जंगल में बकरी चराने गया था, लेकिन देर शाम तक भी नहीं लौटा। ऐसे में ग्रामीण उसको ढूंढने के लिए जंगल गए, तो वहां उसका शव मिला। ग्रामीण शव को लेकर गांव आए। इसके बाद वन विभाग को सूचना दी।


बकरी चरा रहा था चिंरजीलाल ( sawai madhopur news )

इसके बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। हालांकि अब तक बाघ की पहचान नहीं हो सकी है। ग्रामीणों ने बताया कि बाघ नाले में छुपा बैठा था। पास में ही बकरी चरा रहे चिंरजीलाल पर उसने हमला कर दिया।


शाम को लौट आई बकरियां

जानकारी के अनुसार शाम करीब पांच बजे बकरियां गांव में लौट आई, लेकिन चिरंजी नहीं लौटा। इसके बाद ग्रामीणों ने जंगल मेंं उसकी तलाश शुरू की। रात करीब आठ बजे ग्रामीणों को जंगल में उसका शव मिला।


इनका कहना है...

खण्डार के फरिया क्षेत्र में बाघ के हमले में एक जने की मौत की सूचना है। वन विभाग की टीम मौके पर है। बाघ कौनसा है अभी इसकी पहचान नहीं हो सकी है।

- मुकेश सैनी, उपवन संरक्षक, रणथम्भौर बाघ परियोजना, सवाईमाधोपुर

यह खबरें भी पढ़ें...


सीएम गहलोत ने दी स्वीकृति: तकनीकी विश्वविद्यालयों और इंजीनियरिंग कॉलेजों में 7वां वेतन आयोग लागू

घर से बिना बताए निकली थी विवाहिता, ट्रेन से कटा मिला शव, फैली सनसनी


रिश्तेदार ही बना दरिंदा: नाबालिग को खाली प्लॉट में ले जाकर किया बलात्कार