स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रणथम्भौर वन क्षेत्र से होकर निकल रहे बजरी वाहन

Rakesh Verma

Publish: Aug 25, 2019 12:57 PM | Updated: Aug 25, 2019 12:57 PM

Sawai Madhopur

रणथम्भौर वन क्षेत्र से होकर निकल रहे बजरी वाहन

मलारना डूंगर. रणथम्भौर नेशनल पार्क के बिलोली वन क्षेत्र में बनास नदी में अवैध बजरी खनन कर वन सीमा में होकर बजरी ले जाते ट्रैक्टर ट्रॉली को वन कर्मियों ने जब्त किया। ट्रैक्टर ट्रॉली को मलारना स्टेशन वन चौकी में खड़ा किया। मलारना स्टेशन वन चौकी प्रभारी अशोक शर्मा ने बताया कि शनिवार सुबह मुखबिर से सूचना मिली थी कि बाढ़ बिलोली वन भूमि में होकर बजरी से भरे ट्रैक्टर ट्रॉली निकल रहे हैं।इस पर वन चौकी प्रभारी शर्मा वन कर्मियों के साथ बाढ़बिलोली वन क्षेत्र पहुंचे। जहां बजरी से भरा ट्रैक्टर ट्रॉली आता दिखाई दिया। वन कर्मियों को देख चालक ट्रैक्टर ट्रॉली को छोड़ बनास के बीहड़ों में भाग गया। बाद में वनकर्मियों ने वन भूमि से ट्रैक्टर ट्रॉली जब्त कर लिया। उधर अवैध बजरी खनन व परिवहन पर वन विभाग की कार्रवाई की भनक लगते ही खनन माफियाओं में हड़कम्प मच गया। दर्जनों खाली ट्रैक्टर ट्रॉली बनास नदी से बैरंग लौट गए।


ट्रैक्टर ट्रॉली पलटी
मलारना स्टेशन क्षेत्र में शनिवार को बनास नदी से अवैध खनन कर बजरी भरकर ला रहा ट्रैक्टर ट्रॉली अनियंत्रित होकर खाई में पलट गया। ग्रामीणों ने बताया कि वनकर्मी एक ट्रैक्टर ट्रॉली को जब्त कर ला रहे थे। रास्ते में यह ट्रैक्टर ट्रॉली पलट गया। इस मामले में वनकर्मियों ने जब्त ट्रैक्टर ट्रॉली सही सलामत वन चौकी में खड़ा होने की बात कही।


एक ट्रैक्टर ट्रॉली वन क्षेत्र से जब्त किया है। जो वन चौकी में खड़ा है। बजरी से भरे ट्रैक्टर ट्रॉली पलटने की कोई जानकारी नहीं है।
अशोक शर्मा, वन चौकी प्रभारी, मलारना स्टेशन