स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उड़द में लगा रोग, फसल हो रही चौपट

Rakesh Verma

Publish: Aug 24, 2019 13:26 PM | Updated: Aug 24, 2019 13:26 PM

Sawai Madhopur

उड़द में लगा रोग, फसल हो रही चौपट

भगवतगढ़. कस्बे सहित आस-पास के दर्जनों गांवों में खेतों में खड़ी उड़द की फसल में रोग लगने से फसल के चौपट होने के आसार है। क्षेत्र के किसानों ने बताया कि रोग से उड़द के पौधों के पत्ते पीले पड़कर सूखने लगे हैं। किसानों का कहना है कि महंगे भाव के बीज एवं खाद के इस्तेमाल के बावजूद भी फसलों में रोग लगने से किसान संकट की स्थिति में आ जाते हैं। इस बारे में सहायक कृषि अधिकारी श्योजीलाल मीना ने बताया कि उड़द की फसल यलो मोजेक रोग से ग्रस्त है। उन्होंने किसानों को रोग से बचाव के लिए कीटनाशकों के छिड़काव की सलाह दी। वहीं आवश्यक परामर्श लेने को कहा है।

वाटर कूलर लगाने को लेकर हुआ विवाद
भगवतगढ़. जटवाड़ा कलां में भारतीय स्टेट बैंक के भीतर रखे वाटर कूलर को शुक्रवार को परिसर के बाहर लगाने की कार्रवाई की गई, लेकिन विवाद के चलते उपभोक्ताओं के लिए वाटर कूलर स्थापित नहीं हो पाया। बैंक के शाखा प्रबंधक रामप्रसाद मीना ने बताया कि शुक्रवार को मिस्त्री बुलवाकर बैंक के बाहर वाटर कूलर लगाने की कार्रवाई करते ही भवन मालिक ने आपत्ति जताते हुए वाटर कूलर लगाने में बाधा उत्पन्न की। बैंक शाखा प्रबंधक ने बताया कि भवन मालिक द्वारा चार पहिया वाहनों के घुमाव में परेशानी को सामने रखते हुए वाटर कूलर के स्टैंड एवं जाल को छोटा करवाकर वाटर कूलर स्थापित करने के लिए कहा गया। शाखा प्रबंधक ने बताया कि स्टैंड एवं जाल छोटा करने से पांच सौ लीटर की पानी की टंकी का जाल पर ठहर पाना मुश्किल है तथा दो सौ लीटर की टंकी से उपभोक्ताओं की पूर्ति हो पाना संभव नहीं है। उन्होंने बताया कि भवन मालिक के जिद पर अड़े रहने के कारण वाटर कूलर नहीं लग पाया।