स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कमाई में अव्वल पर जनसुविधाएं देने में सबसे पीछे

Rajeev Pachauri

Publish: Sep 21, 2019 12:04 PM | Updated: Sep 21, 2019 12:04 PM

Sawai Madhopur

गंगापुरसिटी . गंगापुर के अलावा पड़ोसी जिले करौली के दर्जनों गांवों के लोगों का सफर ट्रेनों के अभाव में दुरुह बना हुआ है। दिल्ली-मुम्बई रेल मार्ग पर कोटा मंडल के ग्रामीण क्षेत्र के स्टेशनों में यात्री भार एवं राजस्व के मामले में आला दर्जे वाले नारायणपुर-टटवाड़ा स्टेशन से जुड़े यात्रियों को ट्रेनों के अभाव में सुगम सफर नहीं मिल पा रहा है। आलम यह है कि यहां यात्रियों को एक से दूसरी ट्रेन पकडऩे के लिए सुबह से शाम तक इंतजार करना पड़ता है।

गंगापुरसिटी . गंगापुर के अलावा पड़ोसी जिले करौली के दर्जनों गांवों के लोगों का सफर ट्रेनों के अभाव में दुरुह बना हुआ है। दिल्ली-मुम्बई रेल मार्ग पर कोटा मंडल के ग्रामीण क्षेत्र के स्टेशनों में यात्री भार एवं राजस्व के मामले में आला दर्जे वाले नारायणपुर-टटवाड़ा स्टेशन से जुड़े यात्रियों को ट्रेनों के अभाव में सुगम सफर नहीं मिल पा रहा है। आलम यह है कि यहां यात्रियों को एक से दूसरी ट्रेन पकडऩे के लिए सुबह से शाम तक इंतजार करना पड़ता है।


गंगापुरसिटी विधानसभा क्षेत्र की उप तहसील तलावड़ा के समीपवर्ती नारायणपुर-टटवाड़ा रेलवे स्टेशन राजस्व के मामले में अव्वल है, लेकिन यात्री सुविधाओं के मामले में फिसड्डी साबित हो रहा है। क्षेत्र के अलावा सपोटरा (करौली) जिले के ग्रामीण क्षेत्र के बहुतेरे गांव के लोग यहां से यात्रा करते हैं, लेकिन सुविधाओं की कमी के चलते कई बार लोगों को गंगापुरसिटी या सवाईमाधोपुर स्टेशन जाकर ट्रेनों में सफर करना पड़ता है। इससे समय के साथ लोगों को आर्थिक रूप से भी नुकसान होता है। प्रतिदिन यहां से हजारों यात्री यात्रा के लिए पहुंचते हैं। यहां पर्याप्त ट्रेनों का ठहराव नहीं होने के कारण कई बार लोग सुबह से शाम तक ट्रेनों का इंतजार करते रहते हैं। इससे उन्हें निराशा हाथ लगती है। काफी दिनों से यहां एक्सप्रेस ट्रेनों के ठहराव की मांग की जा रही है, लेकिन नतीजा अब तक सिफर ही है।


सुविधाओं का भी टोटा


नारायणपुर-टटवाड़ा स्टेशन पर सुविधायुक्त प्रतीक्षालय, सुलभ शौचालय, रेल ओवरब्रिज, प्लेटफार्म नंबर एक से दो पर जाने के लिए फुट ओवरब्रिज आदि का भी अभाव है। फुट ओवरब्रिज के अभाव में लोगों को जान जोखिम में डालकर पटरी पार करनी पड़ती है। इससे दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है। काफी समय से यहां अलग आरक्षण खिडक़ी की भी दरकार बनी हुई है। सुविधाएं बढऩे से जहां यात्रियों को लाभ मिलेगा। वहीं रेलवे को भी राजस्व का फायदा होगा।
इन ट्रेनों के ठहराव की है मांग


नारायणपुर-टटवाड़ा स्टेशन पर कोटा निजामुद्दीन, जनशताब्दी एक्सप्रेस, मेवाड़ एक्सप्रेस, कोटा कटरा एक्सप्रेस सहित अवध एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव करने की मांग की जा रही है।


सांसद को कराया अवगत


नारायणपुर-टटवाड़ा स्टेशन पर एक्सप्रेस ट्रेनों के ठहराव एवं अन्य सुविधाओं में इजाफा करने की मांग को लेकर युवा भाजपा नेता दर्शन सिंह गुर्जर मोतीपुरा के नेतृत्व में लोगों ने टोंक-सवाईमाधोपुर सांसद सुखवीर सिंह जौनापुरिया को ज्ञापन सौंपा। इस पर सांसद जौनपुरिया ने कहा कि क्षेत्र में सभी स्टेशनों पर मूलभूत सुविधाओं में इजाफा किया जाएगा। इसके लिए शीघ्र ही रेलवे के उच्चाधिकारियों से चर्चा करूंगा।


बैठक में गूंजा ट्रेन ठहराव का मामला


गंगापुरसिटी रेलवे स्टेशन पर सुपरफास्ट ट्रेनों के ठहराव का मामला शुक्रवार को पश्चिम मध्य रेलवे के कोटा मंडल की बैठक में गूंजा। टोंक-सवाईमाधोपुर सांसद सुखवीर सिंह जौनापुरिया ने गंगापुरसिटी में ट्रेनों के ठहराव सहित अन्य मांगों को पुरजोर तरीके से उठाया। साथ ही गंगापुर-दौसा रेलवे लाइन का कार्य जल्द पूरा करने का मामला उठाया। राजस्थान पत्रिका में 19 सितम्बर के अंक में ‘राजधानी जयपुर के लिए केवल एक ही टे्रन, दक्षिण भारत से सम्पर्क अधूरा’ शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी।

इसके बाद 20 सितम्बर के अंक में ‘स्टेशन पर हो सुपरफास्ट ट्रेनों का ठहराव’ शीर्षक से खबर प्रकाशित की। खबरों में बताया कि दिल्ली-मुंबई के लिए यहां से हजारों यात्री यात्रा करते हैं, लेकिन करीब 7 से 8 घंटे इंतजार करने के बाद ट्रेनें मिल पाती हैं। गंगापुरसिटी से जयपुर के लिए मात्र दो ट्रेनें संचालित हैं। इसमें गरीब नवाज सप्ताह में 1 दिन चलती है। बाकी दिन बयाना-जयपुर पैसेंजर चलती है। इसके चलते लोगों को बीच में सवाईमाधोपुर स्टेशन से दूसरी ट्रेन बदलनी पड़ती है। यदि गंगापुर से सीधी जयपुर के लिए सुबह-शाम की पारी में ट्रेन संचालित की जाए तो लोगों का लाभ मिलेगा। इस दौरान मथुरा-सवाई माधोपुर पैसेंजर को जयपुर तक चलाने की बात भी कही गई। इसके बाद भाजपा नेता दर्शन सिंह गुर्जर के नेतृत्व में दिए गए ज्ञापन में सुपरफास्ट ट्रेनों के ठहराव के साथ गंगापुरसिटी से जयपुर के मध्य एक शटल लोकल ट्रेन प्रतिदिन चलाने की मांग रखी थी।


सांसद ने यह उठाई मांग


- खराब पड़े डिस्प्ले बोर्ड ठीक कराए जाएं।
- महूकलां पर ओवरब्रिज बनाने।
- विभिन्न ट्रेनों के ठहराव की मांग।
- रेलवे की खाली जमीन पर कारखाना खोलने।
- दौसा-गंगापुर रेलवे लाइन का काम जल्द कराने।
- गंगापुर-धौलपुर-सरमथुरा लाइन का काम शुरू कराने।
- हम्बीर ब्रिज बनाने का मामला उठाया।
- सवाईमाधोपुर में बी से डी केबिन के बीच अंडरपास बनाने।
- खैरदा फ्लाइओवर के दोनों ओर बसे लोगों के लिए अंडरपास बनाने।
- कोटा-हरिद्वार ट्रेन में स्लीपर एवं जनरल डिब्बे बढ़ाने
- गंगापुर-सवाईमाधोपुर के लोगों के लिए जयपुर तक शटल चलाने।