स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मप्र में प्रोटेक्शन एक्ट के लिए लामबंद हुए अधिवक्ता, तीन मंत्रियों को बर्खास्त करने की मांग

Sonelal Kushwaha

Publish: Jul 17, 2019 18:39 PM | Updated: Jul 17, 2019 18:39 PM

Satna

सतना जिले के मैहर व अमरपाटन बार एसोसिएशन ने राज्यपाल के नाम सौंपा ज्ञापन

मैहर/अमरपाटन. अधिवक्ता संघ ने राज्यपाल के नाम एसडीएम को ज्ञापन दिया। इसमें प्रोटेक्शन एक्ट की मांग करते हुए बयानबाजी करने वाले तीन मंत्रियों मंत्रिमंडल से बाहर करने की मांग की है। कहा कि मंत्री जीतू पटवारी, गोविंद सिंह राजपूत व ओंकार सिंह मरकाम ने अधिवक्ताओं को अपशब्द कहा था। जिसे लेकर अधिवक्ताओं में रोष व्याप्त है।

उपस्थित रहे ये लोग
ज्ञापन देने में मैहर अधिवक्ता संघ के उपाध्यक्ष अनिल शुक्ला, इंद्रभूषण पांडेय, राजेश गौतम, ग्रंथपाल मुकेश शुक्ला, राजेश श्रीवास्तव, योगेंद्र प्रताप सिंह, अनिल गौतम, रजनीश शर्मा, एलएन सोनी, बालेंद्र सिंह, सीपी विश्वकर्मा, रामविशाल पटेल, रजनीश चौरिहा, आईएम अंसारी, अभिनाश त्रिपाठी, प्रमोद शुक्ला केके सोनी, अभिनाश त्रिपाठी, शेषमणि पटेल, अमित कोल, कमल मरकाम, अरविंद धुर्वे, निखिल मिश्रा, अनवर बेग उपस्थित रहे।

अमरपाटन में पारित किया निंदा प्रस्ताव
अमरपाटन अधिवक्ता संघ अध्यक्ष प्रदीप तिवारी के नेतृत्व में अधिवक्ताओं ने निंदा प्रस्ताव पारित किया। कहा, सरकार वचन पत्र से मुकरी तो पूरे प्रदेश के वकील अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे। ज्ञापन देने में सचिव बीके चतुर्वेदी, बृजभूषण मिश्रा, पुरुषोत्तम ताम्रकार, तरुण पाठक, राज नारायण पांडेय, महेश श्रीवास्तव, शेषमणि मिश्रा, आनंद पांडेय, प्रभाकर सिंह रामचरित पांडेय, सुरेश तिवारी, संतोष शुक्ला, राजकुमार द्विवेदी, रामविश्वास साकेत सहित कई अधिवक्ता मौजूद रहे।