स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

200 की रिश्वत लेते एएनएम ट्रैप, प्रसूति सहायता का बिल क्लियर करने के लिए मांगी थी रकम

Suresh Kumar Mishra

Publish: Oct 25, 2019 18:25 PM | Updated: Oct 25, 2019 18:25 PM

Satna

लोकायुक्त रीवा की कार्रवाई: उप स्वास्थ्य केंद्र महिदल में पदस्थ थी आरोपी एएनएम, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रामपुर बाघेलान में चल रही कागजी कार्रवाई

सतना। मध्यप्रदेश के सतना जिला अंतर्गत लोकायुक्त टीम ने ट्रैपिंग की कार्रवाई की है। बताया गया कि उप स्वास्थ्य केंद्र महिदल में पदस्थ आरोपी एएनएम ने प्रसूति सहायता का बिल क्लियर करने के लिए पीडि़त से 500 रुपए रिश्वत की मांग की थी। रकम न देने पर आरोपी एएनएम बिल नहीं पास कर रही थी। धक-हारकर पीडि़त पति रीवा लोकायुक्त एसपी से शिकायत की।

ये भी पढ़ें: चित्रकूट दीपदान मेला: पांच दिवसीय दीपावली मेले की तैयारियां पूरी, जानिए क्या होगा खास

एसपी ने शिकायत की पड़ताल कराई तो बात सच निकली। फिर ट्रैपिंग का दिन शुक्रवार को नियत किया गया। जैसे ही शुक्रवार को पीडि़त से आरोपी एएनएम ने रिश्वत के 200 रुपए लिए वैसे ही लोकायुक्त की टीम दबोच लिया। लोकायुक्त की 15 सदस्यीय टीम भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई कर रही है।

ये भी पढ़ें: ये 5 चीजें सपने में दिखे तो बिल्कुल ना करें नजरअंदाज, ऐसे समझें गुणा-गणित

ये है मामला
रीवा लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र वर्मा ने बताया कि शिकायतकर्ता सत्यभान साकेत निवासी मझियार थाना रामपुर बघेलान ने एएनएम से रिश्वत मांगने की शिकायत दर्ज कराई थी। पीडि़त सत्यभान साकेत का कहना था कि आरोपी एएनएम ऊषा सिंह पति मेषराज सिंह 53 वर्ष निवासी गाजन थाना रामपुर बाघेलान प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र छिबौरा अंतर्गत उप स्वास्थ्य केंद्र महिदल में पदस्थ है। जो कि मप्र शासन द्वारा गर्भवती महिला को प्रसव उपरांत 16000 रुपए देने का प्रावधान है।

ये भी पढ़ें: सोने की कील खरीदने आई महिलाओं की गैंग ने काउंटर से उड़ाई लाखों की ज्वेलरी, सीसीटीवी में कैद हुई करतूत

[MORE_ADVERTISE1]NM trap satna today : 200 rishvat for maternity help aid bill
Patrika IMAGE CREDIT: Patrika
[MORE_ADVERTISE2]

लोकायुक्त टीम ने रंगे हाथ पकड़ लिया

फिर भी उक्त सहायता राशि से संबंधित फार्म को सत्यपित करने के एवज में आरोपी एएनएम द्वारा 500 रुपए रिश्वत की मांग की जा रही थी। शिकायत के सत्यापन के दौरान 200 रुपए रिश्वत की मांग की पुष्टि हुई। फिर ट्रैपिंग का दिन नियत किया गया। शुक्रवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रामपुर बाघेलान परिसर में जैसे ही एएनएम ने रिश्वत के 200 रुपए लिए तभी लोकायुक्त टीम ने रंगे हाथ पकड़ लिया। यह कार्रवाई लोकायुक्त निरीक्षक विद्यावारिधि तिवारी के नेतृत्व में की जा रही है।

[MORE_ADVERTISE3]NM trap satna today : 200 rishvat for maternity help aid bill
IMAGE CREDIT: patrika