स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जस्सी हत्याकांडः कनाडा की पुलिस ने पंजाब की संगरूर पुलिस को सौंपे दो अभियुक्त

Brijesh Singh

Publish: Jan 24, 2019 18:17 PM | Updated: Jan 24, 2019 18:17 PM

Sangroor

दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के आव्रजक केन्द्र में गुरूवार सुबह कनाडा की पुलिस ने अहमदगढ़ के पुलिस उपअधीक्षक पलविंदर सिंह चीमा के नेतृत्व में पहुंची संगरूर पुलिस को दोनों अभियुक्त सौंप दिए।

चंडीगढ़/संगरूर। पंजाब के बहुचर्चित जस्सी हत्याकांड के दो अभियुक्तों को गुरूवार को कनाडा की पुलिस ने पंजाब की संगरूर पुलिस को दिल्ली हवाई अड्डे पर सौंप दिए। इन अभियुक्तों में जस्सी की 70 वर्षीय मां मलकीत कौर और 75 वर्षीय मामा सुरजीत सिंह बदेशा शामिल है। दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के आव्रजक केन्द्र में गुरूवार सुबह कनाडा की पुलिस ने अहमदगढ़ के पुलिस उपअधीक्षक पलविंदर सिंह चीमा के नेतृत्व में पहुंची संगरूर पुलिस को दोनों अभियुक्त सौंप दिए।

 

पटियाला हाउस कोर्ट में हुई पेशी

कनाडा के दूतावास के अधिकारियों की टीम भी इस मौके पर मौजूद थी। दोनों को मेडिकल जांच के बाद पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया। संगरूर पुलिस के अनुसार दोनों अभियुक्तों का एक दिन का ट्रांजिट रिमांड लिया गया है और शुक्रवार को दोनों को मलेरकोटला के मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा और पुलिस रिमांड मांगा जाएगा। पुलिस रिमांड के दौरान दोनों से पूछताछ की जाएगी। जस्सी की हत्या के 19 साल बाद दोनों अभियुक्तों का कनाडा से प्रत्यर्पण बुधवार रात किया गया

 

मर्जी के खिलाफ शादी करने पर गई जान

आरोप है कि परिजनों की इच्छा के विपरीत विवाह करने पर ठेके के हत्यारों से जस्सी की हत्या करवाई गई। पंजाब पुलिस ने इससे पहले सितम्बर 2017 में दोनों के प्रत्यर्पण का प्रयास किया था लेकिन वे प्रत्यर्पण रोकने में कामयाब रहे थे। जस्सी ने मार्च 2000 में मिठु से गोपनीय तौर पर विवाह कर लिया था। ठेके हत्यारों ने दोनों पर हमला किया था। इस हमले में जस्सी की मौत हो गई थी लेकिन मिठु बच गया था।

 

19 साल से इंसाफ का इंतजार

अभियुक्तों के प्रत्यर्पण पर जस्सी ने जस्सी के पति सुखविंदर सिंह मिठु ने कनाडा की पुलिस का आभार व्यक्त किया है और आशा व्यक्त की है कि न्याय मिलेगा। मिठु ने कहा कि वह उम्मीद छोड चुका था। अब तक 19 साल बीत गए है। मैं जस्सी की मां से पूछना चाहता हूं कि क्या हमारा प्यार इतना बडा अपराध था। मेरे खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज किया गया था और मैंने न्याय के लिए तीन साल जेल में बिताए।