स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

संभल: पुलिस कर्मी हत्या कांड का फरार आरोपी ढाई लाख का इनामी बदमाश शकील पुलिस मुठभेड़ में ढेर

Jai Prakash

Publish: Aug 11, 2019 19:17 PM | Updated: Aug 11, 2019 19:17 PM

Sambhal

मुख्य बातें

  • 17 जुलाई को बंदी वाहन से सिपाहियों की हत्या कर हुए थे फरार
  • तीनों पर था ढाई-ढाई लाख का इनाम
  • कमल को पहले ही अमरोहा पुलिस कर चुकी ढेर

सम्भल: दो पुलिस कर्मियों की हत्या कर फरार चल रहे ढाई लाख के इनामी बदमाश शकील को पुलिस ने रविवार को गुन्नौर थाना क्षेत्र के जंगल में मुठभेड़ में मार गिराया। वहीं ढाई लाख का दूसरा इनामी बदमाश धर्मपाल फरार होने में कामयाब हो गया। बदमाशों से हुई मुठभेड़ के दौरान एसपी यमुना प्रशाद बुलेट प्रूफ जाकेट पहने होने की चलते बाल -बाल बच गए। बदमाशों द्वारा चलाई गई 2 गोलियां एसपी की बुलेट प्रूफ जैकेट में धंस गई।

आधी रात अचानक थाने पर पहुंचे 'यह शख्स' तो पुलिस वालों ने लगा दी दौड़, एसएसपी भी पहुंचे

तीन सिपाही घायल
मुठभेड़ में बदमाशों की गोली से 3 सिपाही भी घायल हुए हैं, जिन्हे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस फरार बदमाश धर्मपाल को पकड़ने के लिए गुन्नौर थाना क्षेत्र के जंगल काम्बिंग कर रही है, जबकि एक बदमाश कमल को अमरोहा पुलिस पहले ही ढेर कर चुकी है।

रेलवे स्टेशन पर अचानक पहुंची टीम और करने लगी चेकिंग, बड़ी वजह आई सामने, देखें वीडियो


बुलेटप्रूफ जैकेट ने बचाई एसपी की जान
एसपी यमुना प्रसाद के मुताबिक उन्हें फरार बदमाश शकील और धर्मपाल के रजपुरा थाना क्षेत्र में दिखाई देने की सूचना मिली थी। सूचना के बाद एसपी ने कई थानों की पुलिस फ़ोर्स के साथ रजपुरा क्षेत्र के जंगल की घेराबंदी कर शकील और धर्मपाल को घेर लिया। बदमाशों ने खुद को घिरा देख पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। बदमाशों की फायरिंग से एसपी बुलेट प्रूफ जाकेट पहने होने की वजह से बाल -बाल बच गए। जिसके बाद पुलिस ने बदमाशों पर फायरिंग करते हुए एक बदमाश शकील को मार गिराया, जबकि दूसरा बदमाश धर्मपाल फरार हो गया।

कागजों में हेरा—फेरी कर हासिल की यूपी पुलिस की नौकरी, मामला खुला तो जाना पड़ा जेल

सिपाहियों की हत्या कर हुए थे फरार
गौरतलब है कि 17 जुलाई को मुरादाबाद से चन्दौसी न्यायालय में पेशी पर आये कैदियों ने पेशी के बाद वापस लौटने के दौरान दुसासाहसिक तरीके से पुलिस वैन में मौजूद दो पुलिसकर्मियों की आखों में मिर्च पाउडर झोंककर हत्या कर दी थी। हत्या करने के बाद एक पुलिसकर्मी की रायफल लूटकर 3 कैदी शकील, कमल और धर्मपाल फरार हो गए थे। एडीजी और आईजी के निर्देश पर फरार तीनों बदमाशों पर ढाई-ढाई लाख का इनाम घोषित किया गया था।