स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Sambhal: सड़कों पर नमाज के विरोध में हिन्दू संगठनों ने पढ़ी हनुमान चालीसा, पुलिस बनी रही मूक दर्शक

Jai Prakash

Publish: Jul 14, 2019 15:34 PM | Updated: Jul 14, 2019 15:34 PM

Sambhal

मुख्य बातें

  • सड़क पर बैठकर हनुमान चालीसा पढ़ी
  • इस दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी रही
  • सड़क पर नमाज पर रोक लगाने की मांग

संभल: देश में अलग-अलग शहरों में सड़कों पर नमाज (Namaz) को लेकर अब हिन्दू संगठनों (Hindu Sangthan) ने भी विरोध का अलग ही तरीका निकाला है। जिसमें संभल में विश्व हिन्दू शक्ति संगठन ने शहर में सूर्य कुंड मंदिर के सामने बीच सड़क पर बैठकर हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) पढ़ी। इस दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी रही। संगठन के लोगों ने कहा कि नियम सभी धर्मों के लिए एक जैसे होने चाहिए। अगर सड़कों पर नमाज नहीं रुकी तो हम लोग भी बीच सड़क पर इस तरह के कार्यक्रम करेंगे। इस दौरान एक ज्ञापन भी सदर कोतवाल को सौंपा।

Viral Video: शादीशुदा प्रेमकिा के साथ आपत्तिजनक हालत में था युवक, तभी पहुंच गए परिजन और फिर जो हुआ...

 

पुलिस बनी रही मूक दर्शक

विश्व हिन्दू शक्ति भारत संगठन की ओर से हनुमान चालीसा(Hanuman Chalisa) पाठ का आयोजन किया गया। संगठन के बैनर तले कार्यकर्ताओं ने सड़क पर बैठकर पाठ किया तो पुलिस (Sambhal Police) सतर्क हो गई। पुलिस की मौजूदगी में पाठ संपन्न होने के बाद कार्यकर्ताओं ने जय श्रीराम का उदघोष किया। रात करीब 10 बजे विश्व हिन्दू शक्ति संगठन के कार्यकर्ता कोतवाली क्षेत्र में सूर्य कुंड तीर्थ के सामने पहुंचे। जहां सड़क पर दरी बिछाई और बैठ गए। कार्यकर्ताओं ने हनुमान चालीसा का पाठ शुरू कर दिया। इस बीच पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। कार्यकर्ताओं ने पूरी श्रद्धा के साथ हनुमान चालीसा का पाठ किया। इसके बाद कोतवाल धर्मपाल सिंह को ज्ञापन सौंपा।

VIDEO: बुजुर्गों को life Insurance कराने के नाम पर ऐसे ठगते थे युवक-युवती, भंडाफोड़ होने पर चौंक गये लोग

नमाज पर रोक लगाने की मांग

संगठन के प्रदेश अध्यक्ष अक्षित अग्रवाल ने कहा कि जिस तरह सड़कों पर नमाज अदा की जाती है। उसी तरह विशेष दिनों में अब सड़कों पर बैठकर हनुमान चालीसा, सुन्दरकांड, भजन, कीर्तन आदि किए जाएंगे। सड़क पर बैठकर नमाज अदा करने पर रोक नहीं लगाई गई तो विशेष दिनों में कोई न कोई कार्यक्रम करते रहेंगे।

 

बेहद संवेदनशील है संभल

यहां बता दें कि 17 जुलाई से सावन (Sawan) शुरू हो रहे हैं और वेस्ट यूपी में इसको लेकर अलर्ट जारी है। उस पर संभल बेहद संवेदनशील शहर है,जिसमें इस तरह के कार्यक्रम उन्माद बढ़ा सकते हैं। फिलहाल अभी तक पुलिस ने किसी भी कार्यकर्ता पर कोई कार्यवाही नहीं की है।