स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बिहार के लोक शिकायत निवारण में नई सेवाएं

Shribabu Gupta

Publish: May 23, 2017 12:33 PM | Updated: May 23, 2017 12:33 PM

Samastipur

लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम जल्द ही नयी सेवाओं को जोड़ा जाएगा। इसको लेकर 23 विभागों ने राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा है...

समस्तीपुर। लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम जल्द ही नयी सेवाओं को जोड़ा जाएगा। इसको लेकर 23 विभागों ने राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा है। प्रस्तवों की समीक्षा कर इस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।

गौरतलब हो कि मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने पिछले सप्ताह बैठक बुलाकर सभी विभागों से प्रस्ताव मांगा था कि आप कौन-कौन नयी सवाएं उक्त अधिनियम में जोडऩा चाहते हैं। इस संबंध में पदाधिकारी बताते हैं कि कुछ नयी सवाएं जोडऩे के साथ-साथ कुछ नियमों में भी संशोधन होगा। अधिनियम के तहत लोगों की शिकायतें दूर करने के क्रम में कई ऐसे अनुभव हुए हैं, जिसमें नियम में संशोधन करने की आवश्यकता महसूस की गई। संशोधन पर भी कार्रवाई चल रही है।

शिकायतों के निष्पादन की प्रक्रिया के तहत हो रही सुनवाई के दौरान मौजूद रहने वाले संबंधित विभागों के लोक प्राधिकार मामले में भी संशोधन किये जा सकते हैं। पांच जून, 2016 को यह अधिनियम राज्य में लागू हुआ था। तब से अभी तक एक लाख, 65 हजार शिकायतें दर्ज की गई। इनमें एक लाख 40 हजार से अधिक शिकायतों का निष्पादन कर दिया गया है।