स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

विधायक मर्डरः प्रभुनाथ सिंह के साथ इन दो को भी मिली उम्रकैद

Shribabu Gupta

Publish: May 24, 2017 12:36 PM | Updated: May 24, 2017 12:36 PM

Samastipur

प्रभुनाथ सिंह की ओर से हाईकोर्ट में फैसले की चुनौती दी जाएगी। उनके अधिवक्ता ने कहा कि फैसले की कॉपी मिलते ही हाईकोर्ट में चुनौती देने की रूपरेखा तैयार की जाएगी...

समस्तीपुर/पटना। अदालत ने मशरक विधान सभा क्षेत्र के तत्कालीन विधायक अशोक सिंह की हत्या के मामले में दोषी पाए गए राजद नेता और पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह, भाई मिथिलेश सिंह और भतीजे रीतेश सिंह को उम्रकैद की सजा सुनाई। हजारीबाग जिला एवं सत्र न्यायाधीश की अदालत ने दोषियों पर चालीस-चालीस हजार का जुर्माना भी लगाया है। प्रभुनाथ सिंह को पिछले ही दिनों गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था।

प्रभुनाथ सिंह की ओर से हाईकोर्ट में फैसले की चुनौती दी जाएगी। उनके अधिवक्ता ने कहा कि फैसले की कॉपी मिलते ही हाईकोर्ट में चुनौती देने की रूपरेखा तैयार की जाएगी। अदालत के निर्णय के बाद प्रभुनाथ सिंह के पटना तथा मशरक स्थित पैतृक निवास पर सन्नाटा पसरा है। तीन जुलाई 1995 की शाम पटना स्थित सरकारी आवास पर तत्कालीन विधायक अशोक सिंह की गालियों और बमों से हमले कर हत्या कर दी गई थी।