स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

घर में घुसकर युवक को जिंदा जलाया, दिल्ली में इलाज के दौरान मौत, सीएम ने किया ट्वीट

Faiz Mubarak

Publish: Jan 23, 2020 13:09 PM | Updated: Jan 23, 2020 13:09 PM

Sagar

घर में घुसकर कुछ लोगों ने युवक धनप्रसाद अहिरवार के साथ पहले मारपीट की, इसके बाद मिट्टी का तेल छिड़ककर युवक को आग लगा दी। पुलिस ने तीन आरोपियों को किया गिरफ्तार।

सागर/ मध्य प्रदेश के सागर में आपसी रंजिश के चलते युवक को घर में घुसकर युवक को जंदा जला दिया। घटना 14 जनवरी की है, जहां घर में घुसकर कुछ लोगों ने युवक धनप्रसाद अहिरवार के साथ पहले मारपीट की, जब युवक अधमरी अवस्था में आ गया तो, बदमाशों ने मिट्टी का तेल छिड़ककर युवक को आग लगा दी। आरोपी तो वहां से भाग निकले, लेकिन जैसे तेसे स्थानीय लोगों ने आग बुझाकर स्थानीय अस्पताल पहुंचाया, इसके बाद उन्हें दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां इाज के दौरान युवक की मौत हो गई। घटना को दुखद बताते हुए सीएम कमलनाथ ने ट्वीट किया। उन्होंने कहा कि, सरकार मृतक परिवार के साथ है।

 

पढ़ें ये खास खबर- ऑनलाइन कंपनियों की तरह अब सरकार भी देगी सेवाओं की होम डिलिवरी


पुलिस के मुताबिक घटनाक्रम

मोतीनगर थाना पुलिस के मुताबिक, 14 जनवरी को सागर के थाना अंतर्गत इलाके में पुरानी रंजिश के चलते दो पक्षों में विवाद हो गया था। मृतक के परिजन का आरोप है कि धर्मश्री क्षेत्र में कुछ लोगों ने एक युवक के घर में घुसकर पहले उसके साथ मारपीट की। इससे भी मन नहीं भरा तो आरोपियों ने धनप्रसाद अहिरवार पर केरोसिन डालकर आग लगा दी थी। गंभीर रूप से झुलसे युवक को इलाज के लिए बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया, जहां पर्याप्त इलाज न होने के कारण उसे भोपाल रिफर कर दिया गया। इसके बाद 21 जनवरी की रात को एयर एंबुलेंस से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में शिफ्ट किया गया था, जहां 21 जनवरी को इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई।

[MORE_ADVERTISE1] [MORE_ADVERTISE2]

सीएम ने जताई संवेदना

घटना को लेकर कमलनाथ के आधिकारिक ट्विटर हेंडल Office Of Kamal Nath से घटना को दुखद बताते हुए मृतक के परिवार के साथ संवेदनाएं व्यक्त की। सीएम ने ट्वीट करते हुए कहा कि, सागर निवासी युवक धनप्रसाद अहिरवार की दिल्ली में इलाज के दौरान दुःखद मृत्यु का समाचार प्राप्त हुआ। परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएं। दुःख की इस घड़ी में परिवार के साथ सरकार खड़ी है। सीएम ने ये भी कहा कि, परिवार की हर संभव मदद के निर्देश दिये गए हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- केन्द्र सरकार की इस बड़ी कंपनी के आधे से ज्यादा Employees छोड़ने वाले हैं नौकरी, जानिए वजह

पुलिस ने की कार्रवाई

परिजन की शनाख्त के आधार पर पुलिस ने तीन आरोपियों को हिरासत में लिया है। बता दें कि, घटना के दो दिन पहले भी दोनों पक्षों में विवाद हुआ था। हालांकि, इस दौरान मोतीनगर पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाइश देकर लौटा दिया था। इसी मामले में आरोपी राजीनामा करने का दबाव बना रहे थे। 14 जनवरी की रात आरोपियों ने परिजन से मारपीट करते हुए धनप्रसाद को घेर लिया। उसकी भी पिटाई करने के बाद उसे आग लगा दी। परिवार का आरोप है कि, आरोपी कई दिनों से मृतक और परिवार को परेशान कर रहे थे। मोतीनगर पुलिस ने आरोपी छुट्टू, अज्जू, कल्लू, इरफान के खिलाफ धारा 294, 323, 452, 307, 34 व एससीएसटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया था। अब अस्पताल की रिपोर्ट के बाद आरोपियों पर हत्या की धारा 302 भी बढ़ाई जाएगी। पुलिस के मुताबिक, पकड़े गए तीनों आरोपी धनप्रसाद अहिरवार के पड़ोसी हैं। मामले को लेकर भाजपा अहिरवार महापंचायत समेत अन्य संगठन प्रदर्शन कर रहे हैं।

[MORE_ADVERTISE3]