स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जब किन्नर पैसे मांगे तो बस इतना कहना,बदल जाएगी आपकी किस्मत

Samved Jain

Publish: Jul 13, 2018 13:06 PM | Updated: Sep 14, 2019 18:12 PM

Sagar

जब किन्नर पैसे मांगे तो बस इतना कहना, बदल जाएगी आपकी किस्मत,किन्नर ने खुद बताई अपने दिल की बात

सागर. मान्यता है कि किन्नर के द्वारा दिए गए पैसे को अपने पास रखने से बरकत होती है। इसका जिक्र अलग-अलग लेख में किया गया है, लेकिन आपको यहां हम वह बात बताने जा रहे है जिसमें आपको किन्नर के पास से पैसा न भी मिले तो भी आपके यहां बरकत आ सकती है। आप मालामाल हो सकते है। बस जरूरत है किन्नर से एक ऐसी लाइन बोलने की, जो उनके दिल का छू जाए। फिर देखिए कैसे आपको उनकी दुआ लगती है और आप दिन दूने, रात चौगुने सफलता को प्राप्त करते है।

यह बात सामने आई है ट्रेन में सफर के दौरान एक किन्नर कटरीना से चर्चा करने के बाद। टे्रन में यात्रियों से स्नेह स्वरूप रुपए लेने घूम रहे किन्नर से जब पत्रिका ने बात की तो उनका एक लाइन सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाली रही। किन्नर कटरीना के अनुसार बदलते वक्त के साथ समाज में किन्नरों को भी अलग-अलग नजरों से देखा जाना लगा है। भगवान द्वारा जो किन्नर को लेकर वर्णन किया गया है, वह तो दूर अब इसका विपरीत असर भी दिखने लगा है। कुछ लोग नकली किन्नर बनकर व्यवसाय भी करने लगे है। जिससे लोगों की आस्था पर भी गहरा प्रभाव पड़ा है। ऐसी परिस्थिति में हम लोग भी आजीविका चलाने ट्रेन पर इस तरह लोगों का स्नेह एकत्रित कर लेते है।

...तो क्या इससे ही मिलती है दुआ?

इस सवाल पर किन्नर कटरीना का कहना था कि हम हाथ फैलाते है लोग उसमें रुपए डालते है। उनके लिए मुख से सदा खुश रहन के वाक्त तो निकलते है, लेकिन इसे दिल की दुआ नहीं कहा जा सकता। किन्नर से दुआ देने की आवश्यकता नहीं होती है। न ही उससे कुछ वस्तु, रुपए आदि मांगने की आवश्यकता होती है। किन्नर को अगर आपका व्यवहार छू लेता है तो वह आपके लिए संसार की खुशी दुआ में मांग लेता है। फिर चाहे आपने किन्नर के लिए कुछ किया हो या नहीं। एक आपकी बातें और व्यवहार ही यह काम कर सकते है।

किन्नर की दुआ मिले, क्या करना चाहिए ?


आप किसी को दुआ क्यों देते है? क्योंकि, आपको लोग पैसा देते है या फिर आपके प्रति संवेदना या अपनत्व व्यक्त करते है। लगाव ही दुआ है। वैसे तो खुशी के माहौल में नाचने-गाने के लिए अक्सर किन्नरों को मेहमान बनाकर हम घरों में बुलाते है, लेकिन मौजूदा समय में उतना लगाव हमें देखने नहीं मिलता है। किन्नरों को अवसर खत्म होने पर विदा तो किया जाता है, लेकिन अनेक बार किन्नर नाखुश होकर ही लौटते है। ऐेसे में वह आपके बच्चे, वर-वधु व अन्य को सदा खुश रहने और बरकत की दुआ तो कर जाते है, लेकिन खुद नाखुश होकर लौटते है। जिससे दुआएं काम नहीं करती है। कटरीना के अनुसार जब भी आपके घर किन्नर आ जाये उनकी मेहमान नवाजी कर उनसे आशीर्वाद लेना चाहिए।

कौन सी है वह जादुई लाइन ?

कटरीना के अनुसार जब किन्नर रुपए मांगे तो दीजिए अपने अनुसार ही, लेकिन उस वक्त सिर्फ एक जादुई लाइन जरूर बोले। जो यह है कि"आपका आगमन हमारे घर की खुशियों का संकेत है ईश्वर आपको फिर से जल्दी हमारे घर भेजें" इतना सा बोलने मात्र से ही वो बहुत खुश हो जाएगी और सच्चे मन से आपको दुआ देकर जाएगी। सभी जानते है कि किन्नर घरों में हमारी खुशियों को सांझा करने को आते है, ऐसे में कोशिश करना चाहिए कि वो हमारे घर से नाराज होकर नहीं बल्कि खुश होकर जाए। जिससे उनकी आशीर्वाद आपको मिल जाए और आपकी घर की खुशियां दिन दोगुनी और रात चौगुनी बढ़ती जाएं।