स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

चार वर्ष बाद भी श्मशान घाट का काम अधूरा, गंदगी के बीच करना पड़ता है अंतिम संस्कार, पढ़ें खबर

sachendra tiwari

Publish: Dec 08, 2019 09:00 AM | Updated: Dec 07, 2019 20:16 PM

Sagar

बिहरना गांव के लोगों ने एसडीएम से की शिकायत

बीना. ग्राम बिहरना गांव में करीब चार वर्ष पहले शुरू किया गया श्मशान घाट की बाउंड्रीवॉल का काम आज भी पूरा नहीं हो सका। श्मशान घाट के अंदर लोग शौच करने के लिए जाते हैं जिसके कारण वहां पर हमेशा गंदगी फैली रहती है। यहां पर अंतिम संस्कार करने में भी लोगों को परेशानी होती है। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत एसडीएम से ज्ञापन सौंपकर की है। ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि ग्राम बिहरना में करीब चार वर्ष पहले श्मशान घाट की बाउंड्रीवॉल सहित अन्य काम शुरू किया गया था जो बीच में ही बंद कर दिया गया है। अब हाल यह है कि कई लोग तो यहां पर शौच के लिए भी जाते हैं। जिस वजह से प्रांगण में गंदगी फैली रहती है। ग्रामीणों का कहना है कि जब भी यहां पर व्यवस्थाएं सुधारने के संबंध में पंचायत के जिम्मेदार अधिकारियों से कहा जाता है तो वह टालमटौली करके बात खत्म कर देते हैं। प्रशासन की अनदेखी के कारण ग्रामीण परेशान हैं। इतना ही नहीं श्मशान घाट के ऊपर आधा टीनशेड भी हवा में टूट गया था, जिसे फिर से नहीं लगाया गया है। बारिश के दिनों में ग्रामीणों के अंतिम संस्कार करने में भी परेशानी होती है। उस समय भी ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत व ब्लॉक ऑफिस में इसकी शिकायत की, लेकिन निराकरण नहीं किया गया है। ज्ञापन सौंपने वालों में गौरीशंकर, लीलाधर, सुनील नामदेव, बलराम, पूरन, सेवाराम, सतीश, कमलेश, धीरज पाल, महेश नामदेव, तुलसीराम, आशीष, कमला राय, कोमल पाल, विनोद पटेल सहित अन्य लोग शामिल हैं।

[MORE_ADVERTISE1]