स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

स्टेशन पर दूसरी बार आई दिल्ली की टीम, ये मिलीं कमियां

Manish Kumar Dubey

Publish: Sep 17, 2019 15:07 PM | Updated: Sep 17, 2019 15:07 PM

Sagar

स्टेशन पर दूसरी बार आई दिल्ली की टीम, ये मिलीं कमियां

यात्रियों से फीडबैक लेकर सुविधाओं और सफाई व्यवस्था की नब्ज टटोली
सागर. क्वॉलिटी काउंसिल ऑफ इंडिया (क्यूसीआइ) का दो सदस्यीय दल सोमवार को रेलवे स्टेशन निरीक्षण के लिए पहुंचा। पिछले महीने यह दो सदस्यीय दल निरीक्षण करने के लिए आया था, लेकिन निरीक्षण कैंसिल कर दिया गया था। दोबारा दिल्ली से टीम स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए रेलवे स्टेशन पहुंची। बारिश के दौरान सफाई व्यवस्था के लिए दल का निरीक्षण के लिए आना अधिकारियों के गले नहीं उतर रहा है। प्लेटफार्म पर पानी और यात्रियों की आवाजाही से कीचड़ की स्थिति बनना स्वाभाविक है। एेसे में इस सर्वे से स्टेशन की रैकिंग भी प्रभावित हो सकती है। बहरहाल टीम ने सुबह से शाम ५ बजे तक स्टेशन का निरीक्षण किया। टीम ने अपने नॉम्स के अनुसार प्लेटफार्म, रिटायरिंग, वेटिंग, रूम, सर्कुलेटिंग, टॉयलेट आदि का भी निरीक्षण किया और उनकी फोटो खींची। टीम ने स्टेशन पर यात्रियों से भी बात की। उनसे जानने का भी प्रयास किया कि स्टेशन पर सफाई व्यवस्था कैसी रहती है। साफ पानी मिलता है या नहीं। टीम ने डस्टबिन देखे और उनमें नियमानुसार पन्नी रखी होना पाई। वहीं, वाटर बूथ भी चैक किए।
बीना में शताब्दी एक्सप्रेस के स्टॉपेज की मांग
बीना. पमरे में भोपाल मंडल के अंतर्गत आने वाले संसदीय क्षेत्र के सांसदों की बैठक सोमवार को भोपाल में आयोजित की गई, जिसमें सांसदों ने नई ट्रेन के संचालन, रेल लाइन के दोहरीकरण एवं यात्री सुविधाएं बढ़ाए जाने की मांग बैठक में रखी।
बैठक में बीना विधानसभा के अंतर्गत आने वाले रेल स्टेशन पर सुविधाओं के विस्तार की मांग बैठक में शामिल हुए सांसद राजबहादुर सिंह ने की। उन्होंने पूर्व में किए गए सर्वे के अनुसार गुना से गंजबासौदा वाया आरोन, सिरोंज रेलवे लाइन स्वीकृत कराने, शताब्दी एक्सप्रेस का स्टॉपेज करने, भोपाल-जोधपुर ट्रेन एवं फैजाबाद-अहमदाबाद साबरमती एक्सप्रेस का स्टॉपेज महादेवखेड़ी स्टेशन पर करने की बात कही। इसके अलावा जबलपुर में हुई बैठक में रखी गई क्षिप्रा एक्सप्रेस को प्रतिदिन चलाए जाने की मांग उन्होंने भोपाल में हुई बैठक में भी रखी। साथ ही मकरोनिया से भोपाल नई पैसेंजर ट्रेन चलाने, बीना से सागर, बीना से भोपाल डीएमयू मेमू टे्रन चलाने के बारे में भी कहा। वहीं राज्यरानी एक्सप्रेस एवं विंध्याचल एक्सप्रेस को भोपाल से बढ़ाकर हबीबगंज तक संचालित करने की मांग भी सांसद ने बैठक में रखी। उन्होंने बैठक में पानी संरक्षण के संबंध में सुझाव दिया और कहा कि पूरे भारत में रेलवे प्लेटफॉर्म पर शेड एरिया बहुत बड़े हैं जिनमें पानी के संरक्षण के लिए वाटर हार्वेस्ंिटग सिस्टम एवं सोलर पैनल सिस्टम लगाए जा सकते हैं। जिसका आने वाले समय में फायदा मिलेगा, इस सुझाव पर अन्य सभी सांसदों ने भी सहमति दी।