स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उड़द की फसल पर संकट, लगातार बारिश से काली पड़ रही है फसल

sachendra tiwari

Publish: Aug 19, 2019 10:15 AM | Updated: Aug 18, 2019 21:21 PM

Sagar

मौसम साफ न होने पर सोयाबीन की फसल पर भी पड़ेगा असर

बीना. लगातार बारिश से फसलों पर प्रभाव पडऩे लगा है । सबसे ज्यादा असर उड़द की फसल पर पड़ा है और फसल सूखने लगी है। यदि इसी तरह बारिश जारी रही तो सोयाबीन की फसल भी प्रभावित हो जाएगी।
लगातार हो रही बारिश के कारण खेतों में लबालब पानी भरा हुआ है और फसलें डूबी हुई हैं । जिससे फसल खराब होने लगी हैं। उड़द की फसल काली पड़कर सूखने लगी है और किसानों की चिंता बढ़ गई है । किसानों ने हजारों हेक्टेयर में उड़द फसल की बोवनी की है। यदि मौसम साफ नहीं हुआ तो उड़द की फसल पूरी तरह खराब हो जाएगी। सबसे ज्यादा फसल उन खेतों की खराब हो रही है जहां पानी भरता है। उड़द के साथ-साथ सोयाबीन की फसल भी पीली पडऩे लगी है । क्योंकि पिछले करीब आठ दिनों से बारिश का दौर जारी है। मौसम साफ होने पर ही फसलें सुरक्षित रहेंगी।
फसलों पर पड़ रहा है प्रभाव
लगातार बारिश से फसलों पर असर दिख रहा है। पानी भरने वाली जगह की फसलें प्रभावित हो सकती हैं। यदि कुछ दिनों के लिए मौसम साफ हो जाए तो फसलें सुरक्षित रहेंगी।
राकेश परिहार, आरएइओ
फेक्ट फाइल
बोवनी का रकवा
उड़द - 19563 हेक्टेयर
सोयाबीन - 31560 हेक्टेयर