स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

video: केन्द्र सरकार पर लगाए किसानों को राहत राशि न देने के आरोप, निकाली अर्थी रैली

sachendra tiwari

Publish: Dec 09, 2019 20:57 PM | Updated: Dec 09, 2019 20:57 PM

Sagar

प्रदर्शन में कांग्रेस कार्यकर्ता, किसान हुए शामिल

बीना. केन्द्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों और भाजपा के सांसदों द्वारा केन्द्र में गलत जानकारी देने के विरोध में पूर्व जनपद अध्यक्ष इंदर सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं और किसानों ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में प्रदेश के 28 भाजपा सांसदों की अर्थी बनाकर रैली निकाली गई।
बस स्टैंड परिसर में सभी लोग एकत्रित हुए और वहां से कंधों पर अर्थी लेकर नारे लगाते हुए सर्वोदय चौराहे से गांधी तिराहा पहुंचे, जहां मांगों को लेकर एसडीएम के लिए ज्ञापन सौंपा। पूर्व जनपद अध्यक्ष ने बताया कि किसान यूरिया, राहत राशि के लिए परेशान हो रहा है और केन्द्र द्वारा मदद नहीं की जा रही है। साथ ही प्रदेश के भाजपा सांसदों द्वारा केन्द्र में बताया गया कि प्रदेश में फसलों को कोई नुकसान नहीं हुआ है, जिससे प्रदेश सरकार को राहत राशि नहीं मिल पाई है। यदि एक माह के अंदर किसानों की मांगें पूरी नहीं हुईं तो अर्थी जलाने की चेतावनी दी है। इस अवसर पर पीपी नायक, वासु यादव, शारांश बजाज, राहुल कठरया, अनुराग ठाकुर, नरेन्द्र ठाकुर, देवेन्द्र कुशवाहा, विनोद पोरिया, चक्रेश जैन, तुलाराम अहिरवार, रामबाबू, विजय, भगतङ्क्षसह, रामनाथ आदि उपस्थित थे।
पहले तलाशने पड़े लोग, फिर रास्ते से भागे
रैली में शामिल होकर अर्थियां उठाने के लिए पहले लोग तलाशने पड़े। इसके बाद जब रैली सर्वोदय चौराहे पहुंची तो वहां एक राहगीर को अर्थी पकड़ाकर कार्यकर्ता भाग गए। पूरी रैली निकल जाने के बाद दो अर्थियों के साथ खड़ा एक राहगीर नेताओं को कोसता हुआ नजर आया। रोड पर पड़ी अर्थियों के कारण जाम की स्थिति निर्मित होने लगी थी जब पुलिस ने पहुंचकर वहां स्थिति को संभाला।
बस स्टैंड पर सहमे लोग
बस स्टैंड के सामने पूरी अर्थियां रख दी गई थीं। वहां से निकलने वाले लोगों ने जब इतनी बड़ी संख्या में अर्थी देखीं तो वह सहम गए और लोगों से यह पूछते नजर आए क्या घटना हो गई।

[MORE_ADVERTISE1]