स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ICAI ने जारी किया CS प्रोफेशनल और एग्जिक्यूटिव का रिजल्ट

Sunil Sharma

Publish: Aug 26, 2019 13:30 PM | Updated: Aug 26, 2019 13:01 PM

Results

Foundation Examination Result: कृति बनीं सीएस प्रोफेशनल की इंडिया टॉपर, पहली बार तीनों रैंक जयपुर से, टॉप 5 में शहर की पांच बेटियां, अब तक किसी एक चैप्टर से नहीं आई टॉप-3 रैंक, गर्ल्स का रहा दबदबा

Foundation Examination Result: शहर की पांच फ्रेंड्स ने आइसीएसआइ के इतिहास में अपना नाम स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज करवाते हुए नया कीर्तिमान बनाया है। कंपनी सेक्रेटरीज की एग्जाम हिस्ट्री में पहली बार टॉप-3 रैंक किसी एक ही चैप्टर से आई है। द इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज ऑफ इंडिया (ICAI) की ओर से रविवार को जारी सीएस प्रोफेशनल (न्यू सिलेबस) जून-19 के रिजल्ट में शहर की कृति खंडेलवाल ने ऑल इंडिया फस्र्ट रैंक हासिल की है।

ये भी पढ़ेः ऐसे शुरु करें खुद का फोटोग्राफी बिजनेस, हर महीने कमाएंगे लाखों

ये भी पढ़ेः फेल होने के बाद आजमाएं ये 5 उपाय तो पक्का मिलेगी कामयाबी

हर्षा चौइथानी ने सेकंड, रूपल गुप्ता ने थर्ड और पायल मिश्रा व अंतिमा मधानी दोनों ने संयुक्त रूप से पांचवी रैंक हासिल की है। सबसे खास बात ये है कि ये पांचों अच्छी फ्रेंड्स है। पांचों गर्ल्स ने एक दूसरे की हेल्प से ही तैयारी की है। जयपुर चैप्टर के चेयरमैन सीएस राहुल शर्मा ने बताया कि रविवार को सीएस प्रोफेशनल और एग्जिक्यूटिव प्रोग्राम का रिजल्ट जारी किया गया। एग्जिक्यूटिव प्रोग्राम के ओल्ड सिलेबस में अंकित गर्ग ने 18वीं और नैंसी अग्रवाल ने २०वीं, वहीं न्यू सिलेबस में हर्षित परवाल ने 15वीं रैंक हासिल की है।

AIR 1: कृति खंडेलवाल
माता-पिता: लक्ष्मी खंडेलवाल (होममेकर), राजेश खंडेलवाल (बिजनेसमैन)
ऑल इंडिया टॉपर कृति का कहना है कि बहुत सारे ऑथर्स को पढऩे की बजाय इंस्टीट्यूट के स्टडी मैटेरियल से ही पढ़ाई करें। रिविजन के साथ मॉक टेस्ट देते रहे। सक्सेस में फ्रेंड्स का बड़ा रोल है। हमने ग्रुप बनाकर स्टडी की। आपस में प्रॉब्लम शेयर करते थे, साथ ही एक-दूसरे को मोटिवेट भी किया। पूरे साल सोशल मीडिया पर एक्टिव रही। लेकिन सेल्फ कंट्रोल जरूरी है।

AIR 2: हर्षा चौइथानी
माता-पिता: प्रियंका चौइनाथी (होममेकर), ईश्वर चौइथानी (बिजनेसमैन)
फाउंडेशन में तो रैंक थी, लेकिन एग्जिक्यूटिव में रैंक नहीं आई। एग्जिक्यूटिव की अपनी कमियों को दूर किया और स्टडी पर फोकस किया। अपनी कमियों को पहचानकर उन्हें स्ट्रेंथ बनाया। अच्छे से पांच-छह बार रिविजन किया। इंस्टीट्यूट में अच्छे फ्रेंड्स बने और एक-दूसरे की हेल्प से ही रैंक अचीव की है।

AIR 3: रूपल गुप्ता
माता-पिता: सीमा गुप्ता (होममेकर), मोहन लाल गुप्ता (गवर्नमेंट ऑफिसर)
सक्सेस का कोई शॉर्टकट नहीं होता, इसके लिए हार्डवर्क और कन्सिटेंसी के साथ पेशेंस जरूरी है। ग्रुप डिस्कशन व स्टडी का फायदा मिला। एक-दूसरे से काफी सीखने को मिला। फ्रेंड्स ने काफी मोटिवेट किया। खुद पर कॉन्फिडेंस होना सबसे जरूरी है। बड़ी बहन ने हमेशा सपोर्ट किया, जब कभी नर्वस होती तो बहन ने ही बूस्ट किया।

31 अगस्त तक करवाना होगा रजिस्ट्रेशन
चेयरमैन राहुल शर्मा ने बताया कि एक जून के बाद रजिस्ट्रेशन करवाने वाले स्टूडेंट के लिए 1 दिवसीय ओरिएंटेशन अनिवार्य होगा। स्टूडेंट्स को यह ओरिएंटेशन प्रोग्राम रजिस्ट्रेशन के 15 दिनों के अंदर पूरा करना जरूरी होगा। जयपुर चैप्टर में यह ओरिएंटेशन प्रोग्राम 3 सितंबर को एग्जिक्यूटिव प्रोग्राम के लिए और सितंबर को फाउंडेशन प्रोग्राम के लिए आयोजित किया जा रहा है। जयपुर चैप्टर के कार्यकारी अधिकारी डॉ. राजेश गुप्ता ने बताया कि एग्जिक्यूटिव पास करने वाले स्टूडेंट्स को जून 2020 प्रोफेशनल परीक्षा में शामिल होने के लिए 31 अगस्त तक रजिस्ट्रेशन करवाना होगा।