स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यूरिया संकट, इस जिले में किसानों को नहीं मिल रहा पर्याप्त खाद

Gourishankar Jodha

Publish: Dec 04, 2019 12:53 PM | Updated: Dec 04, 2019 12:53 PM

Ratlam

दिलीपनगर, सैलाना, आलोट में भी नहीं सुधरी यूरिया वितरण व्यवस्था, किसान लगाते रहे केंद्रों पर सुबह से लेकर शाम तक चक्कर

रतलाम। जिले में किसानों को समय पर्याप्त यूरिया नहीं मिल रहा है, इसके चलते अन्नदाता परेशान है तो यहां वहां खाद के लिए भटकता नजर आ रहा है। यूरिया की मारामारी से किसानों को निजात नहीं मिल रही है, यह बात अलग है कि जिला स्तर पर सात केंद्र यूरिया वितरण के लिए खोले गए थे, लेकिन केंद्रों पर वितरण व्यवस्था प्रथम दिन से लेकर मंगलवार तक पटरी पर नहीं आ पाई। मंगलवार को मप्र राज्य सहकारी विपणन संघ केंद्र दिलीप नगर रतलाम पर गोडाउन प्रभारी ने यूरिया खाद उपलब्ध नहीं है...का पर्चा चस्पा कर दिया। विपणन सहकारी समिति सैलाना पर 23 दिसंबर से लेकर आज तक यूरिया वितरण नहीं किया गया, आलोट वितरण केंद्र पर पीओएस मशीन में तकनीकि खराबी अब भी बनी हुई है।

यूरिया वितरण की शिकायत यहां कराए दर्ज
किसान-कल्याण तथा कृषि विकास संचालनालय स्थित इस कक्ष के दूरभाष क्रमांक 0755-2558823 पर कार्यालयीन समय सुबह 10 से 5.30 बजे तक शिकायतें दर्ज कराई जा सकेंगी। सहायक संचालक स्तर के 13 अधिकारी की ड्यूटी लगाई गई है। उप संचालक कृषि जीएस मोहनिया ने बताया कि सोसायटियों और केंद्र व प्रायवेट क्षेत्र में 3167 मेट्रिक टन यूरिया उपलब्ध है। एक रेंक 1491 मेट्रिक टन की बुधवार को लगने वाली है। यूरिया पर्याप्त मात्रा में है, दिलीप नगर केंद्र पर यूरिया नहीं है इस संबंध में जानकारी लेता हूं। सैलाना-आलोट केंद्र पर भी कुछ परेशानी आ रही है। विभाग ने राज्य स्तरीय यूरिया वितरण शिकायत कक्ष स्थापित किया है।

अनावश्यक यूरिया का भंडारण ना करें
उपसंचालक कृषि ज्ञानसिंह मोहनिया ने बताया कि रबी वर्ष 2019-20 के लिए 42000 मेट्रिक टन लक्ष्य के विरुद्ध सहकारिता क्षेत्र में 18940 मेट्रिक टन एवं निजी क्षेत्र में विक्रेताओं के यहां 7311 मेट्रिक टन यूरिया का भंडारण हुआ है। वर्तमान में सहकारिता क्षेत्र में 2746 एवं निजी क्षेत्र में विक्रेताओं की यहां 421 मेट्रिक टन यूरिया शेष है। किसानों से आग्रह है कि अनावश्यक रूप से यूरिया का भंडारण नहीं करें।

विक्रेता द्वारा अधिक कीमत लेने पर तत्काल सूचना दें
किसान से कोई विक्रेता अधिक कीमत पर यूरिया विक्रय करता है तो रतलाम के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी के मोबाइल नंबर 9893718045 पर, विकासखंड सैलाना के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी के मोबाइल नंबर 9977884148 पर, विकासखंड बाजना के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी के मोबाइल नंबर 9827535406 पर, विकासखंड जावरा के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी के मोबाइल नंबर 9425354714 पर, विकासखंड पिपलोदा के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी के मोबाइल नंबर 9926431190 पर तथा आलोट के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी के मोबाइल नंबर 8085597668 पर सूचित करें।

[MORE_ADVERTISE1]