स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ratlam video news - रतलाम के गांव में टायर जलाकर कर रहे शव का अंतिम संस्कार

Ashish Pathak

Publish: Aug 19, 2019 11:47 AM | Updated: Aug 19, 2019 11:47 AM

Ratlam

ratlam video news - रतलाम के गांव में टायर जलाकर कर रहे शव का अंतिम संस्कार

रतलाम। (प्रीतमनगर)। ratlam video news - शासन भले ही विकास के लाख दावे करें लेकिन धरातल पर स्थिति कुछ और ही है ग्रामीणों को आज भी समस्याओं से दो-चार होना पड़ रहा है क्षेत्र में सेवरिया में ग्रामीणों को मुक्तिधाम तक पहुंचने के लिए कीचडय़ुक्त रास्ते से गुजरना पड़ता है। प्रीतमनगर पंचायत के मजरा उच्चवनिया में बसंतीबाई मईडा के निधन पर उनका अंतिम संस्कार में बारिश का मौसम बाधक बना, चिता को जलाने के लिए श्मशान के अभाव में वैकल्पिक व्यवस्थाएं करना पडी़। जैसे ही बारिश की बौछार शुरू हुई परिजन आनन - फानन में टायर और घासलेट की व्यवस्था करने में जुट गए और टायर और घासलेट के सहारे चिता जलाई। ग्राम पंचायत का कहना है कि मुक्तिधाम के लिए बजट नहीं है, बजट होते ही इसका निर्माण किया जाएगा। तब तक टायर ही शव को जलाने के लिए एकमात्र विकल्प है


ऐसे में मूलभूत सुविधाओं के अभाव में नागरिकों का धैर्य जवाब दे रहा है जिम्मेदारों के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी। सड़क, बिजली, पानी और श्मशान इन मूलभूत आवश्यकताओं की ओर जिम्मेदारों का ध्यान नहीं है । ग्राम पंचायत बजट नहीं होने का बहाना बना पल्ला झाड़ रही है। बता दे कि पंचायत का उच्चवनिया मजरा शत-प्रतिशत आदिवासी बहुल गांव है जहां पर मूलभूत सुविधाओं का अभाव है ऐसे में ग्राम पंचायत अलग पंच ग्रामीण अलग पंचायत की मांग भी कई बार विभिन्न मंचों पर रख चुके हैं। वहीं सेवरिया ग्राम पंचायत में एक महिला का निधन होने पर उसकी अंतिम यात्रा को श्मशान तक पहुंचाने के लिए जिस रास्ते से ग्रामीण गुजरे वह कीचड़ युक्त और दुर्गम था जिससे ग्रामीणों को परेशान होना पड़ा और उन्होंने ग्राम पंचायत पर उदासीनता का आरोप लगाया और कहा कि इस मार्ग को प्राथमिकता से सुधारना चाहिए।

बजट आने पर होगा काम
फिलहाल ग्रामीणों को जो परेशान हो रही है, उसके लिए मुक्तिधाम निर्माण जरूरी है। बजट आने पर मजरा उच्चवनिया में मुक्तिधाम का निर्माण करवाएंगे।
- रामसिंह मुनिया सरपंच