स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

समिति प्रबंधक और बचत बैंक प्रभारी ने किया 18 लाख रुपए का गबन

Chandraprakash Sharma

Publish: Jan 15, 2020 18:26 PM | Updated: Jan 15, 2020 18:26 PM

Ratlam

बाजना की प्राथमिक साख सहकारी समिति में डेली कलेक्शन में किया घोटाला

रतलाम। प्राथमिक सहकारी साख समिति मर्यादित बाजना में पदस्थ रहे सहायक समिति प्रबंधक और बचत बैंक प्रभारी ने मिलकर उपभोक्ताओं से डेली कलेक्शन के रूप में संग्रहित राशि में हेराफेरी करने के मामले में बाजना पुलिस ने दोनों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। इन दोनों ने 2011-12- से लेकर 2014-15 के बीच उपभोक्ताओं की 18 लाख 51 हजार से ज्यादा राशि में गबन किया है। यह घोटाला बैंक की आडिट रिपोर्ट में भी सामने आ चुका था।
बाजना थाना प्रभारी रेवलसिंह बर्डे ने बताया बाजना की प्राथमिक साख सहकारी संस्था मर्यादित के प्रबंधक गौतमलाल खराड़ी की रिपोर्ट पर यह प्रकरण दर्ज किया गया है। खराड़ी ने बताया संस्था में नियुक्त कर्मचारी जो हिमांशु पिता राजेंद्रसिंह देवड़ा जो बचत बैंक प्रभारी भी हैं। साथ ही जितेंद्रसिंह पिता कल्याणसिंह देवड़ा जो सहायक प्रबंधक हैं। इनके जिम्मे ही डेली कलेक्शन से उपभोक्ताओं से मिलने वाली राशि का हिसाब रखने और बैंक में जमा करवाने की जिम्मेदारी थी। इन्होंने 2011-12 से लेकर 2014-15 के बीच उपभोक्ताओं से हर दिन संकलित राशि की रसीदें उपभोक्ताओं को दी लेकिन इसमें से कुछ राशि उन्होंने जमा नहीं करवाते हुए गबन किया है। वर्ष 2014-15 में संस्था के समिति प्रबंधक रहे विजयसिंह सोनगरा को जानकारी मिली थी कि हिमांशु ने राशि में गबन किया है। बैंक ने जांच के लिए अधिकारी की नियुक्ति की जिस पर जांच रिपोर्ट में भी साफ हो गया था कि उक्त कर्माचरियों के अतिरिक्त अन्य कर्मचारी भी दोषी हैं। इस पर इनके खिलाफ प्रकरण दर्ज करने के लिए १६ अक्टूबर २०१९ को पत्र दिया गया था। इस पर सोमवार को प्रकरण दर्ज किया गया है।

[MORE_ADVERTISE1]