स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

त्रिवेणी के पावन तट पर होगा 66वां महारूद्र यज्ञ, समिति का किया गठन

Chandraprakash Sharma

Publish: Nov 19, 2019 17:20 PM | Updated: Nov 19, 2019 17:20 PM

Ratlam

श्री सनातन धर्मसभा एवं महारूद्र यज्ञ समिति के नए पदाधिकारियों का गठन

रतलाम। त्रिवेणी के पावन तट पर ६६वां महारूद्र यज्ञ का आयोजन 17 से 27 दिसंबर तक आयोजित होगा। इस दौरान त्रिवेणी में ज्ञान गंगा के साथ यज्ञ और मेले का भी आयोजन होगा। महारूद्र यज्ञ को लेकर श्री सनातन धर्मसभा एवं महारूद्र यज्ञ समिति के नए पदाधिकारीयों का गठन किया गया।
त्रिवेणी तट पर आयोजित बैठक में सर्वानुमति से अध्यक्ष पद के लिए समाजसेवी कन्हैयालाल मौर्य को मनोनित किया गया। इसी तरह उपाध्यक्ष पद पर रमेश व्यास, सचिव पद पर नवनीत सोनी, सहसचिव पद पर पुष्पेन्द्र जोशी, कोषाध्यक्ष पद पर गोविन्द राठी और प्रचारमंत्री पद पर सूरजमल टांक को मनोनित किया गया। साथ ही समिति में रह कर वर्षो से अपनी सेवा दे रहे कोमलसिंह राठौर एवं पं. रामचन्द्र शर्मा को संरक्षक पद पर मनोनित किया गया। समिति द्वारा सभी नए पदाधिकारीयों का पुष्पमालाओं से सम्मान किया गया। महिला मंडल के पदाधिकारीयों का गठन 17 दिसंबर से 27 दिसंबर तक चलने वाले 66 वें महारूद्र यज्ञ आयोजन के दौरान किया जाएगा। इस अवसर पर समिति के यज्ञाचार्य पं. दुर्गाशंकर औझा, 66 वें महारूद्र यज्ञ के यजमान प्रेम उपाध्याय, लालचन्द टांक, डॉ. राजेन्द्र शर्मा, पं. राजेश दवे, ताराबेन सोनी, सत्यनारायण पालीवाल, गोपाल झवेरी, बंशीलाल शर्मा, ब्रजेशनन्दन मेहता, हरसहाय शर्मा, गोपाल शर्मा, नारायण राठौड़, चेतन शर्मा आदि मौजूद थे।

[MORE_ADVERTISE1]