स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मोदी सरकार ने निकाली तरकीब-सस्ती होने लगी प्याज

harinath dwivedi

Publish: Dec 11, 2019 13:06 PM | Updated: Dec 11, 2019 13:06 PM

Ratlam

सरकार की कोशिशों को असर प्याज के भाव में दिखने लगा है। स्थानीय मंडियों से लेकर फुटकर बाजार में भी प्याज के भाव लुढ़कने लगे हैं। रतलाम, मंदसौर और नीमच की मंडियों में जहां से सबसे ज्यादा प्याज की आवक होती है, वहां लगातार चौथे दिन भी प्याज के भाव में गिरावट दर्ज की गई है।

रतलाम. सरकार की कोशिशों को असर प्याज के भाव में दिखने लगा है। स्थानीय मंडियों से लेकर फुटकर बाजार में भी प्याज के भाव लुढ़कने लगे हैं। रतलाम, मंदसौर और नीमच की मंडियों में जहां से सबसे ज्यादा प्याज की आवक होती है, वहां लगातार चौथे दिन भी प्याज के भाव में गिरावट दर्ज की गई है। सरकार ने प्याज के भावों पर नियंत्रण के लिए पूरे प्रदेश में आवश्यक वस्तु अधिनियम लागू किया तो आयात भी शुरू कर दिया। बड़े स्टॉकिस्टों पर कार्रवाई की गई और आयात से प्याज की आवक बढऩे से मंडियों ने भाव गिर गए हैं। इससे उपभोक्ताओं ने राहत की सांस ली है।

[MORE_ADVERTISE1]

शनिवार को जहां प्याज रतलाम के सैलाना बस स्टैंड सब्जी मंडी में अधिकतम 8300 रुपए प्रति क्विंटल के भाव बिका था, वहीं प्याज सोमवार को मंडी खुलने पर 7300 रुपए प्रति क्विंटल पर पहुंच गया और मंगलवार को 6490 पर आ गया। तीन दिन में अच्छे प्याज के भाव में 1810 रुपए प्रति क्विंटल के गिरावट आ गई। नीचे में 700 रुपए प्रति क्विंटल की गिरावट देखी गई। व्यापारियों की मानें तो प्याज की आयात शुरू होने के साथ ही थोक भाव में भी गिरावट में देखी जा रही है। तीन दिन में करीब 18-20 रुपए किलो तक गिरावट आ गई है।

[MORE_ADVERTISE2]मोदी सरकार ने निकाली तरकीब-सस्ती होने लगी प्याज[MORE_ADVERTISE3]

लहसुन-मिर्च व्यापारी संघ अध्यक्ष मोतीलाल बाफना ने बताया कि प्याज के भाव में गिरावट आने लगी है, ईरान से अमृतसगर में दस गाड़ी प्याज पहुंचा है, अब लगता है जैसे-जैसे आयात होने लगेगा प्याज के भाव में गिरावट आएगी। सैलाना बस स्टैंड सब्जी मंडी प्रभारी रुमालसिंह ने बताया कि मंगलवार को प्याज-२००० से ६४१० रुपए प्रति क्विंटल के भाव बिका, जबकि आवक 2996 कट्टे रही। इसी प्रकार लहसुन 3500 से 1371 रुपए प्रति क्विंटल के भाव रहे और आवक 447 कट्टे रही। उपभोक्ताओं को राहत देने के लिए प्रशासन की ओर से खोले गए रिटेल बिक्री केंद्र के राजेश बाफना ने बताया कि मंगलवार को 50 रुपए किलो के भाव में प्याज 40 किलो के करीब बिके।

कार्रवाई ने भी गिराए दाम
प्याज के बढ़ते दामों को लेकर प्रदेश नहीं वरन पूरे देश में हंगामा मचा हुआ है। किसान खेत से लेकर कृषि उपज मंडी में प्याज की रखवाली कर रहे है। मंदसौर कलेक्टर मनोज पुष्प के निर्देश पर कृष्णा फूड प्रोडक्ट के मालिक व्यापारी गोपाल कोतक के प्रतिष्ठान पर कार्रवाई की गई। कार्रवाई के दौरान दुकान से स्टॉक सीमा से 81 क्विंटल प्याज अधिक पाया गया। जिसको जब्त किया गया। जिसकी कीमत 6 लाख 48 हजार रुपए है। इस संदर्भ से राज्य सरकार ने अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि जहां भी अतिरिक्त प्याज का स्टॉक मिले। उसे तुरंत जब्त करें एवं संबंधित दुकानदार के ऊपर नियमानुसार सख्त कार्रवाई करें। इसी के तहत जिले के फूड विभाग के अधिकारियों ने कार्रवाई की और स्टॉक से अधिक प्याज को जब्त कर लिया।